विक्रम लैंडर से संपर्क को लेकर पूरे देश को चिंता है सब पहले दिन से ही प्रार्थना कर रहे है और विक्रम लैंडर से जल्द ही संपर्क होने की दुआ मांग रहे है।

पर अगर यही दुआ अगर पागलपन में बदल जाए तो क्या कहा जा सकता है। जी हां आज हम आपको एक ऐसे ही युवक के पागलपन  या युं कहे कि देश के प्रति अत्याधिक प्रेम के बारे में बताने जा रहे है। जिसकी एक बिना सिर पैर वाली जिद  ने पूरे प्रशासन की नाक में दम कर दी थी और युवक की जिंद एक हाई वोल्टेज ड्रामा में तब्दील हो गई जिसको अब प्रशासन की मदद से खत्म कर दिया है।

विक्रम लैंडर का सुराग लगते ही जापान ने कर दिया यह बड़ा ऐलान, कहा हम करेंगे…

तो चलिए अब हम आपको इस पूरे हाई वोल्टेज ड्रामा के बारे में बताते है।

Image result for विक्रम लैंडर से संपर्क के लिए युवक ने कि टावर पर चढ़कर तपस्या

यूपी के संगम नगरी कहे जाने वाले प्रयागराज में तीन दिनों से जारी हाई वोल्टेज ड्रामा आखिरकार बुधवार को खत्म हो गया। आपको बता दें कि  चांद पर गए विक्रम लैंडर से संपर्क करने के लिए एक युवक के सिर पर अजीबोगरीब सनक सवार हो गई थी। जो आखिरकार बुधवार को उतरी। दरअसल, आप को बता दे कि चांद पर उतरे विक्रम लैंडर से संपर्क करने के लिए इसरो के वैज्ञानिकों ने दिन रात एक कर दिया। तो वही प्रयागराज में भी तीन दिनों से एक जनाब यमुना ब्रिज के टावर पर चढ़कर तपस्या कर रहा था। युवक का कहना था कि इस तरह तपस्या करने कि विक्रम लैंडर का ISRO से जल्द ही संपर्क हो जाएगा। युवक कि जिद थी कि वो चंद्रदेव से प्रार्थना करेंगा जिससे चंद्रदेव खुश होकर विक्रम लैंडर से जल्द ही इसरो का संपर्क करवा देंगे। हालांकि फिलहाल तो युवक कि इस तपस्या से तो किसी काम नही आई पर हां उसकी इस तपस्या ने प्रशासन संबधित लोगों और परिजानों के लिए परेशानी जरुर खाड़ी कर दी थी।

विक्रम लैंडर के नाम में क्या है विक्रम का राज़ ?