उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में किसी को उम्मीद नहीं थी कि भारतीय जनता पार्टी योगी आदित्यनाथ कोई यूपी की कमान संभालने का मौका दे देगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में किसी को उम्मीद नहीं थी कि भारतीय जनता पार्टी योगी आदित्यनाथ कोई यूपी की कमान संभालने का मौका दे देगी। लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने सबकी उम्मीदों से अलग योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया।

Image result for yogi governmentसत्ता में आते ही योगी आदित्यनाथ पूरे एक्शन में दिखाई दिए। योगी आदित्यनाथ ने कई तरह के बदलाव उत्तर प्रदेश में किए। योगी आदित्यनाथ ने एंटी रोमियो स्क्वाड चलाया और उसके बाद कई शहरों के नाम बदल दिए। योगी आदित्यनाथ के एंटी रोमियो स्क्वायड पर काफी बवाल हुआ। उसके बाद इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करने पर राजनीति अपने चरम पर पहुंच गई थी। कई विपक्षी पार्टियों ने योगी आदित्यनाथ के इस फैसले का पुरजोर विरोध किया।

Image result for yogi governmentजानकारी के लिए बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार में ढाई साल पूरे कर लिए हैं। अपनी सरकार के ढाई साल पूरे होते ही आदित्यनाथ योगी ने एक न्यूज़ चैनल से बातचीत के दौरान कुछ बातें कहीं। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी राय को खुलकर सबके के सामने रखा। योगी आदित्यनाथ ने मुसलमानों के बारे में भी खुलकर बातचीत की। उन्होंने कहा कि भले ही प्रदेश में मुसलमानों की संख्या कम है और यह 20% से भी कम है लेकिन उनकी सरकार ने मुसलमानों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ दिया है। उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि मुस्लिम समुदाय के हर तीसरे व्यक्ति ने सरकारी योजनाओं का लाभ उठाया है।

बातचीत के दौरान योगी आदित्यनाथ ने अली और बजरंगबली वाले बयान पर भी अपनी राय खुलकर रखी। यहां पर योगी आदित्यनाथ बोले कि उस समय कोई विशेष परिस्थिति रही होगी जबकि उन्होंने यह बयान दिए थे।