कभी सुना है, मरने से पहले ही भूत बन जाने की कहानी

0
362
कभी सुना है, मरने से पहले ही भूत बन जाने की कहानी

अब हम आपको बताते हैं कि पूरा मामला क्या है…

आजतक आपने भूतों की बस कहानियां ही सुनी होगी, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे भूत के बारे में बताने वाले हैं जो सड़कों पर घूम घूमकर भीख मांग रहा है और खाना मांगकर खाने को मजबूर है। इसको भूत बनाने के पीछे कोई ओर नहीं बल्कि हमारा प्रशासन ही है। यूपी के औरेया की सड़कों पर इसे आसानी से देखा जा सकता है। चलिए अब हम आपको बताते हैं कि पूरा मामला क्या है…

कभी सुना है, मरने से पहले ही भूत बन जाने की कहानी

दरअसल औरैया के नगर पंचायत बाबरपुर में एक जिंदा व्यक्ति का मृत्यु प्रमाण पत्र जारी कर दिया गया। जिससे वह व्यक्ति सड़को पर घूम घूम कर खाना मांगकर खाने को मजबूर है। बताया जा रहा है कि ज़मीन जायदाद को हड़पने के लिए सगी बहन ने अपने ही मंद बुद्धि भाई को मृत घोषित करवा दिया और सारी संपत्ति को हड़प लिया।

आपको बता दें, जिंदा व्यक्ति को मृत घोषित करने का कारनामा नगर पंचायत बाबरपुर ने किया है। जिन्होंने बिना जांच किये जिंदा व्यक्ति का मृत्यु प्रमाण पत्र बना दिया। वहीं अधिकारियों का भी मानना है कि किसी का भी मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने के लिए 2 गवाह की जरूरत होती है। फिर सवाल ये उठता है कि इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हुई जो जिंदा व्यक्ति को ही मृत घोषित कर दिया गया।

कागजों में मरने के बाद सड़कों पर भटकने को मजबूर हैं ये मंदबुद्धि

वहीं सबसे बड़ा सवाल तो ये है कि जिंदा व्यक्ति को मृत्यु प्रमाण पत्र देकर उसे उसे सड़को पर भींख मांगने और झूठन खाने पर मजबूर करने वाले नगर पंचायत के जिम्मेदार अधिकारियो के खिलाफ कब और कौन कार्रवाई करेगा, ताकि कोई और जिंदा व्यक्ति भूत बनकर सड़को पर भीख मांगने और झूठन खाने पर विवश ना हो।