नींद से जुड़ी इस बीमारी को हल्के में ना लें, हो सकता है कैंसर

0
35

स्लीप ऐप्निया भी एक ऐसी ही बीमारी है जो हार्ट अटैक, डायबीटीज, ब्लड प्रेशर जैसे रोगों का कारण बन सकती है।

बहुत सी ऐसी बीमारियां हैं जिनसे लोग अब तक अंजान हैं। स्लीप ऐप्निया भी एक ऐसी ही बीमारी है जिसका शायद ही आपने नाम सुना हो, लेकिन ये एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जो हार्ट अटैक, डायबीटीज, ब्लड प्रेशर जैसे रोगों का कारण बन सकती है। जी हां आपने सही सुना। इस बीमारी से जीवनशैली में कुछ बदलाव कर इसे रोका जा सकता है। सोते वक्त सांस लेने के रास्ते में अवरोध की वजह से ये परेशानी होती है, लेकिन अब एक स्टडी में बेहद चौकाने वाली बात सामने आयी है। जो महिलाएं स्लीप ऐप्निया से पीड़ित हैं उन्हें पुरूषों की तुलना में कैंसर होने का खतरा ज्यादा रहता है।

नींद से जुड़ी इस बीमारी को हल्के में ना लें, हो सकता है कैंसर

आपको बता दें करीब उन 20 हजार वयस्क मरीजों को इस स्टडी में शामिल किया गया जिन्हें ये बीमारी थी। इस स्टडी में पाया गया कि करीब 2 प्रतिशत मरीजों को कैंसर डायग्नोज हुआ है। इसमें जानकारों का अपना-अपना मत है। स्वीडन के यूनिवर्सिटी ऑफ गोथेनबर्ग के प्रफेसर ल्यूडगर ग्रोटे का कहना है कि कैंसर का एक रिस्क फैक्टर है स्लीप ऐप्निया या फिर यूं कहें कि जरूरत से ज्यादा वजन यानी ओवरवेट होना भी एक कॉमन रिस्क फैक्टर है जो कैंसर और स्लीप ऐप्निया दोनों के खतरे को बढ़ाता है।

नींद से जुड़ी इस बीमारी को हल्के में ना लें, हो सकता है कैंसर

वहीं आपको ये बात जानकर भी हैरानी होगी कि इससे पुरूषों की तुलना में महिलाओं को खतरा अधिक है। ल्यूडगर ग्रोटे का कहना है कि हमारे नतीजे में ये बात सामने आयी कि जिन महिलाओं को स्लीप ऐप्निया है उन्हें कैंसर होने का खतरा 2 से 3 गुना अधिक होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्लीप ऐप्निया लाइफस्टाइल से जुड़ी बीमारी है और जीवनशैली में थोड़ा बदलाव कर इस पर काबू पाया जा सकता है।