राज ठाकरे के साथ उनके बेटे अमित और बेटी उर्वशी भी हैं।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे कोहिनूर इमारत मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) दफ्तर पहुंच गए हैं। राज ठाकरे के साथ उनके बेटे अमित और बेटी उर्वशी भी हैं। ईडी ऑफिस में अधिकारियों ने राज के साथ करीब घंटेभर तक पूछताछ की। इसे देखते हुए मुंबई पुलिस ने गुरुवार को दक्षिण मुंबई में ईडी कार्यालय के बाहर सीआरपीसी की धारा 144 (गैरकानूनी सभा पर प्रतिबंध) लगा दी है। ईडी ऑफिस के तरफ के सभी रास्तों को खाली करा दिया गया है और आसपास के इलाकों में किसी भी तरह की गाड़ियों के आवागमन पर रोक लगा दी गई है।

मुंबई में इन 4 जगहों पर लगी धारा 144

इसी के साथ मुंबई की 4 जगहों पर धारा 144 लगा दी गई है। जिन जगहों पर धारा 144 लगाई गई है वो हैं दादर, मरीन ड्राइव, एमआरए मार्ग और आजाद मैदान।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मनोहर जोशी के बेटे उन्मेश जोशी के स्वामित्व वाले कोहिनूर सीटीएनएल में 850 करोड़ रुपये से अधिक के आईएल एंड एफएस (IL & FS) के ऋण और निवेश की कथित अनियमितताओं की जांच कर रहा है। कोहिनूर सीटीएनएल एक रियलिटी क्षेत्र की कंपनी है जो पश्चिम दादर में कोहिनूर स्क्वॉयर टॉवर का निर्माण कर रही है।

ईडी ने रविवार को राज ठाकरे और उनके पूर्व कारोबारी सहयोगी रहे पूर्व लोकसभा अध्यक्ष और सत्तारूढ़ सहयोगी शिवसेना नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेश जोशी के साथ ही एक अन्य कारोबारी सहयोगी को नोटिस जारी किया था। इस नोटिस के बाद राजनीतिक हलकों में खलबली मच गई थी। बता दें, मुंबई पुलिस ने गुरुवार को एमएनएस के कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेने के साथ ही चार थाना क्षेत्रों में एहतियातन धारा 144 लगा दी गई है।