रविवार के दिन दिल्ली की एक फैक्ट्री में आग लग गई जिसमें 44 लोगों को मौत के मुंह में जाना पड़ा।

रविवार का दिन वैसे तो सबके लिए इंतजार का दिन होता है क्योंकि इस दिन का इंतजार सभी लोग करते हैं। इस दिन छुट्टी होने की वजह से सभी अपने दिन को बेहतर तरीके से मनाने की कोशिश करते हैं, लेकिन रविवार का दिन दिल्ली के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा। दिल्ली की एक फैक्ट्री में आग लग गई जिसमें 44 लोगों को मौत के मुंह में जाना पड़ा। इस घटना को लेकर सीएम केजरीवाल ने जांच के आदेश दिए हैं। बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मौके पर निरीक्षण करने पहुंचे थे।

दिल्ली की एक फैक्ट्री में आग लग गई जिसमें 44 लोगों को मौत के मुंह में जाना पड़ा।

दिल्ली के चुनाव करीब आते जा रहे हैं जिसकी वजह से दिल्ली में इस हादसे को लेकर राजनीति अपने चरम पर पहुंच गई है। राजनीति का हर छोटा-बड़ा नेता दिल्ली के इस हादसे पर सवाल उठा रहा है। भाजपा नेता विजय गोयल ने हादसे के बाद मौके पर पहुंचकर अरविंद केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। इस काम में भाजपा नेता मनोज तिवारी भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने भी अरविंद केजरीवाल सरकार पर कई तरह के सवाल खड़े कर दिए हैं। हालांकि अरविंद केजरीवाल ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवार के लिए 10-10 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा कर दी है।

दिल्ली की एक फैक्ट्री में आग लग गई जिसमें 44 लोगों को मौत के मुंह में जाना पड़ा।

दिल्ली हादसे पर प्राइम मिनिस्टर मोदी का भी बयान सामने आया है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि उनकी संवेदना मृतकों के साथ है। इसके साथ ही उन्होंने घायलों के जल्द से जल्द सेहतमंद होने की कामना भी की है। नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि राष्ट्रीय सहायता कोष से मृतकों के परिवार को दो-दो लाख और घायलों को ₹50000 दिए जाएंगे।