प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंधु नदी का पानी रोकने की बात कही थी जिसके बाद पाकिस्तान से बड़ा बयान सामने आया है।

यह तो सभी जानते हैं कि भारत-पाकिस्तान के रिश्ते आज से नहीं बल्कि सदियों से खराब रहे हैं जब से देश आजाद हुआ है और भारत, पाकिस्तान का बंटवारा हुआ है तब से भारत और पाकिस्तान के बीच कई युद्ध लड़े जा चुके हैं। ऐसा भी देखा गया है कि जब भी भारत-पाकिस्तान के रिश्ते में थोड़ा सुधार आता दिखता है तभी कुछ ना कुछ बड़ी घटना हो जाती है इसी तरह कुछ महीनों पहले पुलवामा हमला हो गया था। जिसके बाद इंडिया और पाकिस्तान के बीच खटास पैदा हो गई थी।

भारत-पाकिस्तान के रिश्ते आज से नहीं बल्कि सदियों से खराब रहे हैं जब से देश आजाद हुआ है कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद भारत पाकिस्तान के बीच में से बचा कुचा रिश्ता भी खत्म हो गया। 5 अगस्त 2019 को कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया गया जिसके बाद अलगाववादी नेता और कुछ विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने इसका विरोध किया। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर पाकिस्तान बुरी तरह पागल हो गया। इसके बाद पाकिस्तान भारत को युद्ध की धमकी देने लगा। लेकिन भारत उसके किसी धमकी से नहीं डरा और अपने फैसले पर अडिग खड़ा रहा। हाल ही में चुनाव प्रचार के दौरान हरियाणा में नरेंद्र मोदी ने कहा था कि भारत से पाकिस्तान को जाता हुआ पानी जल्द ही रोका जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस बात का जवाब पाकिस्तान से भी आ गया है।

भारत-पाकिस्तान के रिश्ते आज से नहीं बल्कि सदियों से खराब रहे हैं जब से देश आजाद हुआ है नरेंद्र मोदी के इस बयान पर पाकिस्तान पूरी तरह परेशान दिख रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंधु नदी का पानी रोकने की बात कही थी जिसके बाद पाकिस्तान से बड़ा बयान सामने आया है। बता दें कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय प्रवक्ता ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि सिंधु समझौते के तहत पाकिस्तान को पानी का विशेषाधिकार है। अगर भारत ने पानी रोका तो इसे उकसावे की कार्यवाही मानी जाएगी और हम इसका जवाब देंगे। पानी पर पाकिस्तान का पूरी तरह अधिकार है कुछ इस तरह के बयान पाकिस्तान की तरफ से आ रहे हैं।