मेट्रो का सफर अब सिर्फ दिल्ली में ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ, राजस्थान और मुंबई जैसे बड़े शहरों में भी कर सकते हैं।

भारतीय रेल को इस देश की नब्ज कहा जाता है। रेल यातायात भारत ही नहीं बल्कि किसी भी देश की बहुत महत्वपूर्ण इकाई होती है। भारतीय रेल का इतिहास सदियों पुराना है। मोटरसाइकिल, कार, हवाई जहाज, हेलीकॉप्टर के बहुत पहले भारतीय रेल ही सबके लिए यातायात का साधन हुआ करती थी। लेकिन आजकल मेट्रो ही हर जगह चर्चा का विषय बनी हुई है। भारतीय रेल के लिए नए ट्रैक ना बनाकर सरकार हर शहर में मेट्रो का निर्माण कर रही है।

मेट्रो का सफर अब सिर्फ दिल्ली में ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के लखनऊ, राजस्थान और मुंबई जैसे बड़े शहरों में भी कर सकते हैं। मेट्रो के सफर को देश के कोने कोने में पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। दिल्ली और एनसीआर के लोग रोजाना ना जाने कितने किलोमीटर का सफर मेट्रो से करते हैं। बहुत सारे लोगों के दिमाग में यह सवाल भी चलता है कि मेट्रो चालक की तनख्वाह कितनी होगी?

Image result for metro driver india hd
जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली मेट्रो वेबसाइट पर आधिकारिक पारिश्रमिक चार्ट के मुताबिक, एक मेट्रो ट्रेन के प्रेशर ड्राइवर को 13500 और ₹25520 महीना मिलती है। यह 30% की किराए भत्ता और 35% के भत्ते के साथ मिलकर है। इसके अलावा, सरकार द्वारा निर्दिष्ट एक महंगाई भत्ता। सभी को जोड़ने के बाद यह एक महीने में लगभग 32,000 तक बढ़ता है, 20,000 आधार वेतन के रूप में लेता है।