जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय (JNU) के सर्वर रुम में तोड़फोड़ को लेकर आइशी घोष के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

JNU में पिछले कुछ दिनों से छात्रों और अध्यापकों के साथ हुई मारपीट के विरोध प्रदर्शनों का दौर लगातार जारी है। नाकाबपोश हमलावरों ने हाथों में रॉड लेकर छात्रों पर हमला किया था। जिसके बाद से मामले में शामिल आरोपियों पर कार्रवाई करने की लगातार मांग की जा रही है। इसी कड़ी में JNU छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत 19 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय के सर्वर रुम में तोड़फोड़ को लेकर आइशी घोष के खिलाफ FIR दर्ज की गई है।

 JNU प्रदर्शन में दिखे FREE KASHMIR के पोस्टर, पुलिस ने की कार्रवाई

Image result for छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत 19 के खिलाफ FIR

हालांकि आइशी घोष और अन्य छात्रों पर आरोपी के रुप में FIR दर्ज नहीं की है। आइशी घोष पर दर्ज केस में शारीरिक हिंसा की बात कही गई है। पुलिस ने बताया की 4 जनवरी को सर्वर रुम में तोड़फोड़ करने को लेकर FIR दर्ज की गई थी।

दिल्ली के जेएनयू में हुई हिंसा के बाद देश भर में इस हमले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। युवा सड़कों पर उतरकर न्याय की मांग कर रहे हैं और छात्रों पर हुए हमले की निंदा कर रहे हैं। दिल्ली में स्थित जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (JNU) में एक बार हिंसा देखने को मिली। एक बार जेएनयू कैंपस में हिंसा की आग भड़की।

JNU बना आंतक का अड्डा नकाबपोश बदमाशों ने कैंपस में घुसकर किया हमला

रात के अंधेरे में कुछ नकाबपोश हमलावरों ने जेएनयू कैंपस पर हमला बोल दिया। हाथों में रॉड लिए इन हमलावरों के सामने जो भी आया उस पर उन्होंने हमला करना शुरु कर दिया। जिसमें 2 दर्जन से अधिक छात्र घायल हो गए।