हॉस्टल में नहाने के पानी की थी कमी, प्रिंसिपल ने किया फिर ये काम…

0
453
हॉस्टल में नहाने के पानी की थी कमी, प्रिंसिपल ने किया फिर ये काम...

प्रिंसिपल ने छात्राओं के इस अरोप से किया इनकार।

प्रिंसिपल ने एक-एक कर करीब 150 छात्राओं के बाल कटवा दिए क्योंकि हॉस्टल में नहाने के लिए पानी की किल्लत थी। प्रिंसिपल की दबंगई का यह मामला तेलंगाना के मेढक का है। एक रिपोर्ट के मुताबिक यहां स्थित ट्रिबल गर्ल्स गुरूकुल स्कूल की प्रिंसिपल (के. अरुणा) ने बाल काटने वाले दो नाई को बुलाकर लड़कियों के बाल कटवाए थे। बाल काटने के बदले छात्राओं से 25 रुपए भी जबरदस्ती लिए गए थे।

प्रिंसिपल की यह मनमानी तब सामने आई जब हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों के परिजन बीते सोमवार (12 अगस्त, 2019) को वहां पहुंचे। हॉस्टल में बच्चियों के छोटे बाल देख उनके परिजन हैरान रह गए। प्रिंसिपल की करतूत सामने आने के बाद हॉस्टल के कर्मचारियों के साथ परिजनों की तीखी बहस हो गई।

बच्चियों के साथ इस तरह का व्यवहार किये जाने के विरोध में यहां परिजन धरने पर भी बैठ गए हैं। लड़कियों के परिजनों ने बताया कि प्रिंसिपल तथा स्कूल के कुछ शिक्षकों ने उनसे कहा कि यह कदम इसलिए उठाया गया क्योंकि लड़कियां अपने बालों को मेन्टेन कर पाने में नाकाम थी और यहां पानी की भी काफी कमी है।

छात्राओं के मुताबिक उनकी मर्जी के बिना जबरदस्ती उनके बाल काटे गए। इस मामले में हंगामा मचने के बाद स्कूल की प्रिंसिपल के॰ अरुणा ने मामले को शांत कराने के लिए बाद में कहा कि सभी छात्राएं मेरे बच्चों की तरह हैं। उन्होंने छात्राओं के आरोप से इनकार करते हुए कहा कि लड़कियों की मर्जी के बिना उनके बाल नहीं काटे गए। उन्होंने माना कि हॉस्टल में पानी की कमी की वजह से छात्राओं को नहाने और अपने कपड़े धोने में परेशानी होती है।