लोकल अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा द्वारा दायर पेटिशन पर सुनवाई करते हुए चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट सूर्य कान्त तिवारी के फैसले के बाद FIR दर्ज की गई है।

मॉब लिंचिंग पर चिंता जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ओपन लेटर लिखने वाले 50 हस्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। इस मामले में गुरूवार को लगभग 50 सेलिब्रिटीज के खिलाफ FIR दर्ज करवाई गई है। इसमें रामचंद्र गुहा, मणि रत्नम, अनुराग कश्यप और अपर्णा सेन जैसे सेलेब्स का नाम शामिल है।

बीते दिनों देश में एक-बाद-एक मॉब लिंचिंग की घटनाएं सामने आने के बाद 50 हस्तियों ने पीएम मोदी को एक ओपन लेटर लिखा था। बॉलीवुड और अन्य इंडस्ट्री के स्टार्स द्वारा पीएम मोदी को लिखे इस लेटर के मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद अब नया मोड़ आ गया है।

Image result for celebrities against mob lynching

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक लोकल अधिवक्ता सुधीर कुमार ओझा द्वारा दायर पेटिशन पर सुनवाई करते हुए चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट सूर्य कान्त तिवारी के फैसले के बाद ये FIR दर्ज की गई है। सुधीर कुमार ओझा ने बताया, ‘चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट ने 20 अगस्त को ये आर्डर पास किया था। मेरी पेटिशन को स्वीकार किया गया था, जिसकी रसीद देकर आज सदर पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज की गई है।’

उन्होंने बताया लगभग 50 दस्तखत करने वाले लोगों के नाम पर उन्होंने पेटिशन डाली थी। खबर है कि इस पेटिशन में उन्होंने देश की इमेज को खराब करने और प्रधानमंत्री के बढ़िया काम को कम आंकने का आरोप लगाया है।