झांसी में एरच थाना क्षेत्र के बामौर गांव के रहने वाले भगवान सिंह ने अपनी लाडली बेटी मंजू की शादी तिलेरा गांव के राज सिंह के साथ तय की थी।

दहेज के लालच में इंसान इतना अंधा हो चुका है कि उसे किसी की जान की भी कोई परवाह नहीं है। यूपी के झांसी में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां ससुराल वालों ने शादी से पहले ही दहेज की मांग कर दी और मांग पूरी ना होने पर लड़के वालों ने रिश्ता तोड़ दिया। शादी का रिश्ता टूटने के बाद लड़की सदमें में आ गई और फांसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली।

शादी से पहले की दहेज की मांग, लड़की ने उठाया ये खौफनाक कदम…

आपको बता दें कि झांसी में एरच थाना क्षेत्र के बामौर गांव के रहने वाले भगवान सिंह ने अपनी लाडली बेटी मंजू की शादी तिलेरा गांव के राज सिंह के साथ तय की थी। 22 अप्रैल को हिंदू रीति-रिवाज के साथ राज सिंह के तिलक की रस्म अदाईगी हुई थी। जिसमें मंजू के पिता ने पांच लाख रुपये नकद और अन्य सामान शादी के पहले ही दे दिया था। शादी दिसंबर माह में होनी थी। इसी दौरान लालची दूल्हे ने दहेज में दो लाख रुपये,  बाइक व सोने की जंजीर की मांग रख दी। मृतक मंजू के परिजनों ने दूल्हा पक्ष को मनाने की बहुत कोशिश की, लेकिन बात नहीं बन सकी, और दूल्हे पक्ष ने शादी करने से मना कर दिया।

शादी से पहले की दहेज की मांग, लड़की ने उठाया ये खौफनाक कदम…

शादी से इंकार होने कि वझा से मंजू मानसिक तनाव में रहने लगी।  इसी बीच एक दिन मंजू कमरे में लगे पंखे में रस्सी बांधकर फांसी से लटक गई।  बेटी को लटका देखकर परिजन घबरा गये।  आनन-फानन में फंदे से उतार कर मंजू को मेडिकल कालेज लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं इस मामले में पिता की तहरीर पर पुलिस ने दूल्हे समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।