पेट दर्द को हल्के में ना लें, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

0
441
पेट दर्द को हल्के में ना लें, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

कभी-कभी छोटी बीमारियों को नजरअंदाज करना हमें महंगा पड़ जाता है। एक छोटी सी गलती जीवन भर का पछतावा बन जाती है।

पेट दर्द किसी को भी हो सकता है। आमतौर पर लोग पेट दर्द होने पर पेट दर्द की दवाई ले लेते हैं और पेट दर्द से छुटकारा पाने की कोशिश करते हैं। या फिर कुछ लोग घरेलू नुस्खों से पेट दर्द को दूर करने का प्रयास करते हैं। पेटदर्द की अनदेखी कई बार आपके लिए खतरा साबित हो सकती है। पेटदर्द गंभीर बीमारियों को लक्षण भी हो सकता है। क्योंकि गेस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर में भी सामान्य तौर पर पेट दर्द की ही शिकायत होती है। जी हां, आपने सही सुना। इसलिए कभी पेटदर्द को इग्नोर ना करें। ऐसे में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

हो जाइए सावधान! हद से ज्यादा इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकता है आपको बीमार

पेट दर्द को हल्के में ना लें, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

कभी-कभी छोटी बीमारियों को नजरअंदाज करना हमें महंगा पड़ जाता है। एक छोटी सी गलती जीवन भर का पछतावा बन जाती है। चलिए आपको गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर के बारे में बताते हैं। ये बहुत खतरनाक बीमारी है, जिसे पेट की आंतो का या फिर पेट का कैंसर भी कह सकते हैं। ये धीर-धीरे से बढ़ता है और शरीर के आंतरिक अंगों को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है। यह कैंसर व्यक्ति के शरीर के अंदर गुर्दे, आंतों, पित्ताशय, पैनक्रियाज और पाचन ग्रंथि को निशाना बनाता है और इन्हें नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है। इसलिए हम आपको ये सलाह देते हैं कि पेटदर्द को हल्के में ना लें। और ऐसा होने पर डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

पेट दर्द को हल्के में ना लें, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

आपको ये जानकर हैरानी होगी कि गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर भारत में सबसे ज्यादा संख्या में लोगों को होने वाला कैंसर बन गया है। जो बेहद ही चौकाने वाली बात है। गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर यानी पेट की आंतों या पेट का कैंसर भारत में लगातार बढता जा रहा है। पिछले साल जीआई कैंसर के 57,394 मामले सामने आए। इसलिए अब आपको सावधान होते हुए छोटी बीमारियों को गंभीरता से लेना शुरू कर देना चाहिए।

सावधान! युवा पीढ़ी के सर पर मंडरा रहा है ये खतरा