29 मार्च को बीजेपी नेता की दबंगो ने प्रयागराज मिर्जापुर मार्ग पर सीने में ताबड़तोड़ गोलिया चलाकर सीना छलनी कर दिया था

बहुचर्चित बीजेपी नेता गुड्डू चौबे हत्याकांड में अभी तक कोई ठोस कार्रवाई न होने से लोगों में आक्रोश है। असल हत्यारों का पता लगाने के लिए समस्त ग्रामवासियों ने डीएम साहब के चौखट पर न्याय की गुहार लगाई है।  गुड्ड की  पत्नी के हाथों में न्याय के लिए गुहारवाली पत्र  जिसमें मिर्जापुर पुलिस की नाकामी लिखी है।

 justice

बीजेपी नेता की पत्नी ने लिखा है कि जब मेरे पति कि हत्या इसी साल मार्च में कर दी गई तो पुलिस ने खाना पूर्ति के आधार पर भारी हंगामा के बाद दो से तीन पखवारा बीत जाने के बाद गांव के ही 4 लोगों को पुलिस ने जेल में डाल दिया, जब कि असली गुनहगार पुलिस के संरक्षण में अभी भी इलाके में घुम रहा है।

करीब 6 महीने से ज्यादा का भी वक्त गुजर जाने के बाद पीड़ित परिवार को कार्रवाई के नाम पर सिर्फ धोखा मिला है। ऐसे में गांव वालों ने बिड़ा उठा लिया है कि जब तक सही न्याय नहीं मिलेगा वो चुप नहीं बैठेंगे।

क्या है पूरा मामला

29 मार्च 2019 को बीजेपी नेता गुड्डू चौबे की हत्या हुई थी

प्रयागराज-मिर्जापुर मार्ग पर हुई थी हत्या

खानापूर्ति के तौर पर सिर्फ 4 को जेल

पुलिस के कार्रवाई से गांव वालों में असंतोष

justice

आपको बता दें कि इसी साल 29 मार्च को बीजेपी नेता की दबंगो ने प्रयागराज मिर्जापुर मार्ग पर सीने में ताबड़तोड़ गोलिया चलाकर सीना छलनी कर दिया था और ये सब कुछ थाना विन्ध्याचल से चंद कदमों की दूरी पर हुआ था। ऐसे में ये देखना बेहद दिलचस्प होगा कि इस हत्या कांड में क्या कुछ कार्रवाई होती है लेकिन एक बात तो साफ है कि अभी तक इस पूरे घटना क्रम में जो कुछ भी हुआ वो सिर्फ और सिर्फ खानापूर्ति है