मजिस्ट्रेट ने छात्रा को रिमांड पर लेने की अनुमति दे दी, जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया।

पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानन्द पर कुछ महीनों पहले एक लॉ पढ़ रही छात्रा ने बलात्कार और यौन शोषण का आरोप लगाया था। इस मामले ने बहुत जल्दी तूल पकड़ा था, क्योंकि इससे पहले बीजेपी के पूर्व नेता कुलदीप सिंह सेंगर पर एक नाबालिग लड़की के बलात्कार का मामला चल रहा था। उसके कुछ ही दिनों बाद स्वामी चिन्मयान्द पर भी एक छात्रा ने यौन शोषण का आरोप लगा आया है।

ED ने शरद पवार के खिलाफ दर्ज की ECIR

चिन्मयानन्द केस में आया नया मोड़, आरोप लगाने वाली लड़की पुलिस के हिरासत में!

बलात्कार और यौन शोषण के जुर्म में चिन्मयानन्द को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

इस मामले में पीड़ित छात्रा पर भी शक की सुई लटक रही है।कोर्ट ने इस मामले की छानबीन को आगे बढ़ाते हुए एसआईटी को इस मामले की जाँच के लिए आगे बढ़ाया है। SIT ने छात्रा से पूछताछ भी शुरू कर दी है।

जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी से की मोदी की तुलना- फंसे शशि थरूर

चिन्मयानन्द केस में आया नया मोड़, आरोप लगाने वाली लड़की पुलिस के हिरासत में!

आपको बता दें कि जाँच के दौरान सोशल मीडिया पर चिन्मयान्द की कई वीडियो वायरल हुई। सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हुआ, जिससे इस केस को एक नया मोड़ मिला। उस वीडियो में लॉ छात्रा, उसका दोस्त संजय और उनके साथ कुछ और लोग भी दिखाई दे रहे है।

वीडियो में कार में बैठा एक आदमी उन्हें रुपये मांगने के लिए फटकार लगा रहा है और भी बहुत कुछ संदिग्ध पाया गया, जिस कारण चिन्मयानद से 5 करोड़ की रंगदारी मांगने पर शक के दायरे में लॉ छात्रा और उनके दोस्त भी आ गए है।

चिन्मयानन्द केस में आया नया मोड़, आरोप लगाने वाली लड़की पुलिस के हिरासत में!

मामले की जांच कर रही SIT के प्रमुख नवीन अरोड़ा ने बताया कि बुधवार सुबह लड़की को कोतवाली ले जाया गया, उसके बाद उसका मेडिकल परीक्षण कराया गया। मेडिकल परीक्षण के बाद मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया और मजिस्ट्रेट ने छात्रा को रिमांड पर लेने की अनुमति दे दी, जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया।