CAA का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों का गुस्सा भी दोनों पर जमकर फुटा रहा है।

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) जबसे सुर्खियों में आया है तबसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर कई इल्जाम लगाये जा रहें है। साथ ही CAA का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों का गुस्सा भी दोनों पर जमकर फुट रहा है। इस दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों ने जहां दोनों की तस्वीरें भी जलाई गई तो कई जगह उनके पुतले भी जलाये गये। अब इसी बीच एक तमिल लेखक ने गृह मंत्री शाह और पीएम मोदी को लेकर एक ऐसा बयान दे दिया है जिस पर काफी विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल तमिलनाडु स्थित चेन्नई में एक लेखक पर सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) द्वाराCAA के विरोध में आयोजित एक बैठक में दोनों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप लगा है।

क्या #IndiaSupportsCAA कैंपेन से शांत होंगे विरोध के सूर

#CAA :तमिल लेखक ने PM मोदी और AMIT SHAH की हत्या को लेकर दिया ऐसा बयान कि भड़क उठी BJP

जिसके खिलाफ पुलिस थाने में कुछ रिपोर्ट दर्ज की गई है और अब पुलिस द्वारा मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।बता दें कि पुलिस द्वारा दर्ज की गई रिपोर्ट में लेखक पर आरोप लगाया गया कि लेखक नीलई कन्नन ने एक बैठक में लोगों से कहा कि ‘वह हैरान हैं कि मुस्लिमों ने अब तक प्रधानमंत्री और गृह मंत्री की हत्या क्यों नहीं की है।’

मेरठ में CAA के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन में मारे गए लोगों के बारे में…

#CAA :तमिल लेखक ने PM मोदी और AMIT SHAH की हत्या को लेकर दिया ऐसा बयान कि भड़क उठी BJP

मिली जानकारी के मुताबिक बता दें कि कन्नन एक तमिल साहित्यकार हैं। बीजेपी ने लेखक पर ये भी आरोप लगाया है कि उन्होंने आयोजित बैठक में पीएम मोदी और गृह मंत्री शाह को लेकर और भी कई भड़काऊ टिप्पणी की है। जिस दौरान उन्होंने काफी अभद्र भाषा का भी प्रयोग किया है।