अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को सबसे पहले लोकसभा में पास कराया और उसके बाद विधानसभा में भी इसे मंजूरी मिल गई लेकिन सड़कों पर लोगों ने इसे मानने के लिए बिल्कुल मना कर दिया।

NRC और CAA को लेकर पूरा देश जल रहा है। इस पर हिंसा जामिया कॉलेज से शुरू हुई और धीरे-धीरे पूरे देश में फैल गई। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, (AMU)  मेरठ और जामिया कॉलेज में सबसे ज्यादा विरोध प्रदर्शन देखा गया। इस प्रदर्शन में पुलिस अधिकारी और छात्र आमने सामने आ गए। नागरिकता संशोधन कानून (CAA)  का विरोध सिर्फ मुसलमान ही नहीं बढ़ी बल्कि पढ़े-लिखे तबके का हर इंसान कर रहा है। बॉलीवुड से जुड़े हुए बहुत सारे लोग नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में देखे गए हैं।

यूपी में बैन होगा पीएफआई,(PFI) जानिए क्यों

भाजपा के महासचिव राम माधव ने मुसलमानों लेकर दिया बड़ा बयान...

जानकारी के लिए बता दें कि जैसे ही भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2019 जीता तब से ही भारतीय जनता पार्टी लगातार ऐतिहासिक फैसले लेने में लगी हुई है। अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को सबसे पहले लोकसभा में पास कराया और उसके बाद विधानसभा में भी इसे मंजूरी मिल गई लेकिन सड़कों पर लोगों ने इसे मानने के लिए बिल्कुल मना कर दिया। हालांकि सरकार ने लोगों को समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन कोई भी इसे समझने को तैयार नहीं है। सभी को यह कानून संविधान के खिलाफ लगता है।

अखिलेश यादव का योगी सरकार पर बड़ा हमला, कहा गरीबों से कंबल ले लिए…

भाजपा के महासचिव राम माधव ने मुसलमानों लेकर दिया बड़ा बयान...भाजपा के महासचिव राम माधव ने कहा कि विपक्ष के नेतृत्व में देश के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन की घटनाएं हुई है जिसमें कई निर्दोषों की जान तक चली गई है। उन्होंने अपने बयान में आगे कहा कि भाजपा (BJP) मुस्लिमों को नागरिकता देने के खिलाफ बिल्कुल भी नहीं है। यह लोगों के मन में भ्रम पैदा किया जा रहा है। यदि ऐसा होता तो पाकिस्तानी गायक अदनान सामी को भारतीय नागरिकता बिल्कुल नहीं मिलती।