पुलिस ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई बड़े खुलासे किए। पुलिस ने 9 छात्रों की पहचान कर उनकी तस्वीरें जारी की हैं। जिसके बाद BJP लेफ्ट पर जमकर निशाना साध रही है।

5 जनवरी को नकाबपोश लोगों ने दिल्ली के जेएनयू में लाठी-डंडों से छात्रों और शिक्षकों पर हमला किया। जिसमें जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष समेत करीब दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे। वहीं इस हिंसा के बाद पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल उठने लगे।

Image result for केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि पुलिस की जांच में सामने आया है कि वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्र घटना में शामिल थे।

दिल्ली पुलिस लगातार इस मामले में जांच कर रही है। वहीं पुलिस ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई बड़े खुलासे किए। पुलिस ने 9 छात्रों की पहचान कर उनकी तस्वीरें जारी की हैं। जिसके बाद बीजेपी लेफ्ट पर जमकर निशाना साध रही है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि पुलिस की जांच में सामने आया है कि वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्र घटना में शामिल थे। उन्होंने आगे कहा कि कई दिनों से चल रहे इस झूठ का पर्दाफाश हो गया है।

JNU हिंसा: दिल्ली पुलिस में गिरफ्त में जल्द होंगे हमलावर, जारी की 9 लोगों…

Image result for केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि पुलिस की जांच में सामने आया है कि वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्र घटना में शामिल थे।

आरोप एबीवीपी और बीजेपी पर लग रहे थे। जो बिल्कुल भी सही नहीं थे। लेफ्ट संगठनों ने पहले से ही योजना बनाकर इस घटना को अंजाम दिया था। उन्होंने सीसीटीवी कैमरे भी खराब कर दिए थे।

क्या ऊपर से आए थे JNU हिंसा को नहीं रोकने के आदेश

Image result for पुलिस की जांच में सामने आया है कि वामपंथी संगठनों से जुड़े छात्र घटना में शामिल थे

वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने भी लेफ्ट को आड़े हाथ लिया। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि जेएनयू में लेफ्ट बेनकाब हो गया है। पूर्व मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति इरानी ने कहा कि उन्होंने करदाताओं के पैसे से खड़ी की गई सरकारी संपत्ति को नुकसान