बीसीसीआई का राहुल द्रविड़ को नोटिस, गांगुली बोले – भगवान ही क्रिकेट की मदद कर सकता है

0
331
बीसीसीआई का राहुल द्रविड़ को नोटिस, गांगुली बोले - भगवान ही क्रिकेट की मदद कर सकता है

बीसीसीआई के इस फैसले का सौरव गांगुली ने कड़ा विरोध किया है। नाराज गांगुली ने ट्विट कर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘ भारतीय क्रिकेट में हितों का टकराव एक नया फैशन बन गया है।

बीसीसीआई अपने फैसलों के चलते हमेशा से सुर्खियों में बना रहता है। इस बार भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला। बीसीसीआई ने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ को नोटिस भेजा है और यह नोटिस हितों के टकराव को लेकर भेजा गया है। बीसीसीआई के एथिक्स अधिकारी (लोकपाल) डी.के. जैन ने राहुल द्रविड़ को नोटिस भेजकर हितों के टकराव मामले में सफाई मांगी थी।

धारा 370 पर अफरीदी के बयान पर गंभीर का पलटवार, कहा– बेटे POK का भी निकालेंगे हल

बीसीसीआई के इस फैसले का सौरव गांगुली ने कड़ा विरोध किया है। नाराज गांगुली ने ट्विट कर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘भारतीय क्रिकेट में हितों का टकराव एक नया फैशन बन गया है, खबरों में बने रहने का यह सबसे अच्छा तरीका है। भगवान क्रिकेट की मदद करें, राहुल द्रविड़ को बीसीसीआई के एथिक्स अधिकारी से नोटिस मिला है।’

आपको बता दें कि एमपीसीए के सदस्य संजीव गुप्ता की शिकायत के आधार पर राहुल द्रविड़ को नोटिस भेजा गया। गुप्ता ने अपनी शिकायत में कहा था कि राहुल द्रविड़ नेशनल क्रिकेट एकेडमी के प्रमुख होने के साथ ही इंडिया सीमेंट ग्रुप के उपाध्यक्ष भी हैं और कंपनी के पास आईपीएल टीम चेन्नई सुपरकिंग्स का मालिकाना हक भी है।

बीसीसीआई का राहुल द्रविड़ को नोटिस, गांगुली बोले - भगवान ही क्रिकेट की मदद कर सकता है

बीसीआई के सीनियर अधिकारी ने बताया कि हां जैन ने पिछले सप्ताह द्रविड़ को नोटिस भेजा था और दो हफ्तों में जवाब भी मांगा था। यह ऐसा पहला मामला नहीं है जब गुप्ता ने हितों के टकराव के चलते भारतीय खिलाड़ियों को नोटिस भेजा है। इससे पहले भी उन्होंने वीवीएस लक्ष्मण, सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली की भी शिकायत की थी।

ASHES 2019 : स्मिथ के शतकों और लियोन के ‘सिक्सर’ की बदौलत सीरीज के पहले मैच में कंगारुओं ने इंग्लैंड को 251 रनों से रौंदा