राम मंदिर विवाद पर मध्यस्थता पैनल हुई फेल, अब खुली अदालत में होगी सुनवाई

0
864
राम मंदिर विवाद पर मध्यस्थता पैनल हुई फेल, अब खुली अदालत में होगी सुनवाई

खुले अदालत में होगी राम मंदिर विवाद पर चर्चा, मध्यस्थता पैनल ने नहीं लिया फैसला

लंबे समय से चल रहे अयोध्या विवाद पर अब तक किसी तरह का कोई बड़ा फैसला नहीं लिया गया है। लेकिन इस विवाद के फैसले के लिए जिस मध्यस्थता पैनल को बनाया गया उस पर आज सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि मध्यस्थता का कोई नतीजा नहीं निकला और अब सुप्रीम कोर्ट मंगलवार 6 अगस्त से इस मामले की रोजाना सुनवाई करेगा। सुनवाई जबतक चलेगी तबतक इस मामले का निपटारा नहीं हो जाता।

आज सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में मध्यस्थता कर रही कमिटी से रिपोर्ट मांगी थी। ऐसा सुप्रीम कोर्ट ने इसलिए कहा क्योंकि कुछ पक्षकारों ने कोर्ट में अर्ज़ी दाखिल कर कहा था कि बातचीत के ज़रिए हल निकालने की हो रही कोशिश में सही तरक्की नहीं हो रही है। इसमे सिर्फ समय की बर्बादी है इसलिए, प्रक्रिया बंद कर दोबारा सुनवाई शुरू की जाए। सुनवाई से पहले गुरुवार को मध्यस्थता कमिटी ने अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंप दी थी।

आपको बता दें कि इस विवाद पर रिपोर्ट सौंपने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता कमिटी को बनाया था पिछली सुनवाई में अदालत ने कहा था कि उसे तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल की एक रिपोर्ट मिली है, जिसकी अध्यक्षता शीर्ष अदालत के पूर्व न्यायाधीश एफ. एम. आई. कलीफुल्ला कर रहे हैं. पैनल के अन्य दो सदस्य आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू हैं।