फैसला 3 नवंबर को आने वाला है सुनवाई पूरी हो जाने के बाद कई राजनेता अपने अपने बयान देने में लगे हुए हैं।

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट की 40 दिन की सुनवाई पूरी हो चुकी है।पूरे देश को अब अयोध्या पर फैसले का इंतजार है।जो सुप्रीम कोर्ट जल्द ही सुनाने वाली है। बुधवार को समय से पहले ही कोर्ट की सुनवाई को पूरा कर लिया गया इसके बाद फैसला सुरक्षित रख लिया गया वहीं इस फैसले पर राजनीतिक बयानबाजी अपने चरम पर पहुंच चुकी है सभी की नजरें इस बात पर टिकी है कि फैसला किसकी तरफ जाएगा।

कई बार बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का आपस में सुलह करने का मौका दिया गयाजानकारी के लिए बता दे कि अयोध्या मामला कोई नया मामला नहीं है। यह सदियों से चला आ रहा मुद्दा है चुनाव के आसपास आते ही हर राजनीतिक पार्टी अयोध्या मामले को बड़ा मुद्दा बना लेती है और चुनाव से पहले वादा करती है कि चुनाव जीतने के बाद यहां पर राम मंदिर का निर्माण किया जाएगा लेकिन चुनाव जीतने के बाद ना तो यहां राम मंदिर बनता है।और नया बाबरी मस्जिद को बनाया जाता है।कई बार बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का आपस में सुलह करने का मौका दिया गया लेकिन दोनों पक्ष नाकाम रहे उसके बाद इसकी सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में चलाई गई।

कई बार बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का आपस में सुलह करने का मौका दियाबता दे कि फैसला 3 नवंबर को आने वाला है सुनवाई पूरी हो जाने के बाद कई राजनेता अपने अपने बयान देने में लगे हुए हैं। हाल ही में असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर को लेकर एक बड़ा बयान दिया है जब असदुद्दीन ओवैसी से फैसले के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उम्मीद करता हूं कि जो भी फैसला आएगा वह कानून का राज कायम करेगा हालांकि उन्होंने इस दौरान कुछ गंभीर आरोप लगाए।