आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फिलहाल अभी तक तिहाड़ जेल में फांसी के लिए एक ही तख्त था, लेकिन अब इनकी संख्या बढ़ाकर 4 कर दी गई है।

निर्भाया केस एक ऐसा हादसा जिसे सिर्फ याद करके ही रुह कांप उठती है। आज से सात साल पहले देश की बेटी को मौत के घाट उतरा गया था। लेकिन इस मामले में पीड़िता को अब तक इंसाफ नहीं मिल पाया है। दिल्ली में निर्भया के साथ 5 हैवानों ने गैंगरेप किया। जिसके बाद लड़की को मरने के लिए सड़क पर फेंक दिया।

Image result for तिहाड़ जेल में अब एक साथ 4 कैदियों को दी जाएगी फांसी

देश में लगातार दोषियों को फांसी देने की मांग उठ रही है लेकिन 7 साल बीतने के बाद भी वो जेल में आराम की जिंदगी गुजार रहे हैं। वहीं अब जब उन्हें सजा मिलने का समय आया है तो बीते दिनों दोषियों ने कोर्ट में दया याचिका दाखिल की और फांसी ना दिए जाने की मांग भी की। जिसके बाद कानून को ध्यान में रखते हुए दोषियों की याचिक पर फांसी की सजा कुछ दिन के लिए टाल दी गई। लेकिन अब फिर से इस मामले में दोषियों की फांसी देने के काम को पूरा करने में तिहाड़ जेल प्रशासन जुट गया है।

Image result for तिहाड़ जेल में अब एक साथ 4 कैदियों को दी जाएगी फांसी

मीडिया में खबर है कि तिहाड़ जेल में फांसी के नए तीन तख्त बनाए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि अब चारों दोषियों को एक साथ फांसी दी जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फिलहाल अभी तक तिहाड़ जेल में फांसी के लिए एक ही तख्त था, लेकिन अब इनकी संख्या बढ़ाकर 4 कर दी गई है। पीडब्ल्यूडी ने इस काम को सोमवार को पूरा किया। फांसी के तीनों नए हैंगर भी उसी जेल नंबर-3 में तैयार किए गए हैं, जहां पहले से एक तख्त है। अब तिहाड़ देश की पहली ऐसा जेल हो गई है, जहां एक साथ चार तख्त फांसी के लिए तैयार हैं।

तिहाड़ जेल के सूत्रों का कहना है कि फांसी के तीन तख्ते यहां निर्भया गैंगरेप के लिए बंद चार कैदियों को फांसी देने के लिए तैयार कराए गए हैं। इन चारों के मामलों की स्टेटस रिपोर्ट जेल प्रशासन कोर्ट खुलने पर देगा। कोर्ट 6 जनवरी को खुल रही हैं। तमाम कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही इनकी फांसी पर अंतिम फैसला लिया जाएगा।