श्रावस्ती जिले में कौतूहल का विषय बनी 18 साल की लड़की

0
863

मस्तिष्क में द्रव्य की मात्रा अधिक हो जाने के कारण सिर बड़ा होने लगता है। मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं

किसी भी इंसान को हम उसके शरीर से मापते हैं। इंसान का शरीर उसके लिए बहुत मायने रखता है। किसी भी भरे पूरे शरीर वाले इंसान के व्यक्तित्व का असर कुछ अलग ही पड़ता है, चाहे वो कुछ भी ना हो वहीं कमजोर शरीर वाले इंसान को एक बच्चा भी कुछ नहीं समझता है। अभी कुछ दिन पहले ही कमजोर शरीर पर अमिताभ बच्चन की एक फिल्म आई थी पा इस फिल्म ने खूब सुर्खियां बटोरी थी। कुछ ऐसे ही सुर्खियां श्रावस्ती में एक अठारह साल की बच्ची भी बटोर रही है।

दरसल जनपद के गिलौला ब्लॉक के ग्रामसभा मसढी गांव के निवासी एक 18 साल की लड़कीं कौतूहल का विषय बनी हुई है। दरअसल यह लड़कीं एक दुर्लभ बीमारी से ग्रसित है। इस बीमारी को मेडिकल भाषा मे हाइड्रो सेफल्स कहा जाता है। जिसे हिंदी में जलशीर्ष कहते हैं महानायक अमिताभ बच्चन के जरिए इस बीमारी पर पा नाम की एक फ़िल्म भी बनाई जा चुकी है।

अभी तक परिजन इसका हर संभव इलाज़ करा चुके हैं। कुछ उनकी गरीबी भी बच्ची के इलाज़ के आड़े आ रही है। इसीलिए इस लड़कीं के परिजन उसके बेहतर और उच्च इलाज के लिए डीएम से मिल कर गुहार लगा रहे हैं। इस बीमारी के बारे में चिकित्सक बताते है कि यह मस्तिष्क से जुड़ी एक जन्मजात बीमारी है और यह बीमारी कुपोषण की वजह से नहीं होती है। यह एक तरह का बर्थ डिफेक्ट है मस्तिष्क में द्रव्य की मात्रा अधिक हो जाने के कारण सिर बड़ा होने लगता है। मांसपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं और इस बीमारी में बचपन मे ही बुढापा आने लगता है।