Uttarakhand में लड़कों से कम पढ़ रहीं लड़कियां

0
169

जिस देश में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे लगाए जाते हों वहीं बेटियां स्कूल न जाएं ये सुनकर थोड़ी हैरत होती है। Uttarakhand में लड़कों की अपेक्षा लड़कियां कम पढ़ रही हैं। लगातार पढ़ाई करने के मामले में भी लड़कियां लड़कों से पीछे है।

स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार की ओर से कराए गए सर्वे के बाद नेशनल फैमिली हेल्थ की रिपोर्ट जारी हुई है। 42.7 लड़कों के सापेक्ष 36.7 फीसदी लड़कियां ही लगातार 12 साल तक शिक्षा ले रही हैं। 15 साल की बच्चियों से लेकर 49 साल तक महिलाओं के बीच स्कूल न जाने वालों का प्रतिशत 16.9 फीसदी है। इसके सापेक्ष इस उम्र वर्ग के 5.7 फीसदी लड़के/पुरुष स्कूल से दूर हैं। उधर साक्षरता में लड़कियों को 79.8 और लड़कों की साक्षरता 89.3 फीसदी आई है। नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि Uttarakhand तीसरे स्थान में हैं। पुरुषों की साक्षरता में Uttarakhand को हिमाचल, लद्दाख, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, जम्मू कश्मीर के बाद सातवां स्थान मिला है। महिला और पुरुष दोनों की साक्षरता में हिमाचल को पहला स्थान मिला है। हिमाचल में महिलाओं की 90.7 साक्षरता और पुरुषों की 92.8 साक्षरता है।

देवनार मुंबई की संस्था International Institute for Population Science ने सर्वे किया था। जिसमें उत्तर भारत के चंडीगढ़, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, राजस्थान और Uttarakhand को इसमें शामिल किया गया है। उत्तरी भारत में महिलाओं की साक्षरता वाले राज्यों में पहला स्थान हिमाचल और दूसरा स्थान दिल्ली को मिला है।

यह भी पढ़ें – Qutab Minar परिसर में स्थित मस्जिद में Namaz पढ़ने पर रोक

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है