Farooq Abdullah का दावा, मुसलमान ने किसी धर्म के खिलाफ़ उंगली नहीं उठाई

0
172

देश में एक तरफ जहां लोग धर्म को लेकर लड़ते नज़र आ रहे हैं वहीं जम्मू-कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष Farooq Abdullah ने अपनी बात सबके सामने रखी है। Amarnath गुफा (Cave) में ‘शिवलिंग’ की उपस्थिति की जानकारी सबसे पहले जिस व्यक्ति ने दी, वह एक मुस्लिम था। Farooq Abdullah ने यह बात कही है। Farooq Abdullah ने कहा कि किसी भी मुस्लिम व्यक्ति ने कभी किसी धर्म के खिलाफ उंगली नहीं उठाई, लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि ’90 के दशक में एक लहर थी’।

Farooq Abdullah ने कहा, “पहलगाम के एक मुसलमान ने उस गुफा (Amarnath गुफा) में लिंगम देखा था और उसने कश्मीरी पंडितों को इसकी सूचना दी थी। कभी किसी मुसलमान ने किसी धर्म के खिलाफ उंगली नहीं उठाई। हां, 1990 के दशक में एक लहर थी लेकिन यह कहीं और से आई थी।”गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में मंगलवार(5 जुलाई) सुबह खराब मौसम के कारण पहलगाम और बालटाल मार्ग पर Amarnath यात्रा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी गई है।

हिम शिव लिंग की 43 दिवसीय तीर्थयात्रा पिछले सप्ताह शुरू हुई थी। अधिकारियों ने बताया कि पहलगाम के नुनवान और गंदेरबल के बालटाल आधार शिविर से किसी भी तीर्थयात्री को पवत्रि गुफा की ओर नहीं जाने दिया जा रहा है। जून 30 से अब तक करीब 71,000 तीर्थ यात्रियों ने पवित्र गुफा में हिम शिव लिंग के दर्शन किए हैं। Amarnath यात्रा 11 अगस्त को समाप्त होगी। वहीं, कड़ी सुरक्षा के बीच 6,300 से अधिक तीर्थयात्रियों का छठा जत्था दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर ऊंचाई पर स्थित पवित्र Amarnath गुफा के दर्शन के लिए को रवाना हुआ।

यह भी पढ़ें – वेतन न मिलने पर बोले कर्मचारी, Varanasi आ रहे हैं CM Yogi उनसे ही करेंगे शिकायत

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है