किसानों ने हमें सिखाया कि धैर्य के साथ कैसे लड़ना है :CM Arvind Kejriwal

0
163

देश का किसान अगर खेती करना ही छोड़ दे तो हमें खाने को रोटी भी न मिले। किसान भी देश के लिए बेहद ख़ास इंसान माना जाता है। नए कृषि कानूनों के विरोध में Delhi की सीमाओं पर जारी किसान आंदोलन को एक साल पूरा होने पर Delhi CM Arvind Kejriwal ने शुक्रवार को कहा कि देश के किसानों ने हम सभी को यह सिखाया है कि धैर्य के साथ अधिकार के लिए कैसे लड़ना है।

किसान बीते साल 26 नवंबर, 2020 से Delhi की विभिन्न सीमाओं पर कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। इस बीच, किसान संघों के संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने किसान आंदोलन की पहली वर्षगांठ पर विभिन्न राज्यों में विरोध प्रदर्शन आयोजित किए हैं।

इस बीच, भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता Rakesh Tikait ने कहा कि फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी और अन्य मांगों के लिए सरकार पर दबाव बनाने को 29 नवंबर को संसद तक ट्रैक्टर मार्च निकाला जाएगा।

CM Kejriwal ने ट्वीट कर कहा, ”आज किसान आंदोलन को पूरा एक साल हो गया है। इस ऐतिहासिक आंदोलन ने गर्मी-सर्दी, बरसात-तूफान के साथ अनेक साजिशों का भी सामना किया। देश के किसान ने हम सबको सिखा दिया कि धैर्य के साथ हक की लड़ाई कैसे लड़ी जाती है। किसान भाइयों के हौसले, साहस, जज्बे और बलिदान को मैं सलाम करता हूं।”

पिछले हफ्ते, प्रधान PM Modi ने घोषणा की थी कि केंद्र सरकार इस महीने के अंत में शुरू होने वाले संसद के शीतकालीन सत्र में कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए आवश्यक विधेयक लाएगी। PM Modi ने यह भी घोषणा की थी कि सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के लिए एक नए ढांचे पर काम करने के लिए एक समिति का गठन करेगी।

यह भी पढ़ें – सावधान! सामने आया Corona का New Variant

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है