दिल्ली बॉर्डर पर Farmer Protest को दो महीने से ज्यादा वक्त हो चुका है…किसान तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं वहीं सरकार का कहना है कि किसानों के सामने कई प्रस्ताव रखे गए लेकिन किसान हठधर्मिता छोड़ने का नाम नहीं ले रहे हैं। कुल मिलाकर देखा जाए तो कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसानों के बीच एक बार फिर डेड लॉक की स्थिति बन गई है। सरकार और किसानों के बीच अगले दौर की बातचीत ना जाने कब होगी वहीं प्रयागराज में किसानों और सरकार के बीच बातचीत बन जाए इसके लिए हवन किया जा रहा है।

दरअसल संगम नगरी प्रयागराज में लगे माघ मेले में अमेठी से आए मौनी महाराज सरकार और किसानों के बीच बढ़ते गतिरोध को खत्म करने के लिए एक विशेष हवन करवा रहे हैं। मौनी महाराज के मुताबिक ये अनुष्ठान तब तक चलेगा जब तक सरकार और किसानों के बीच मतभेद खत्म नहीं हो जाता। मौनी महाराज का कहना है कि किसान देश के हैं और सरकार भी देश का भला चाहती है ऐसे में सरकार और किसानों के बीच गतिरोध देश के हित के लिए ठीक नहीं है यही वजह है कि वे इस गतिरोध को खत्म कराने के लिए विशेष यज्ञ करवा रहे हैं

यह भी पढ़ें: Farmer Protest: भारत बंद को लेकर UP में हाईअलर्ट

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है