इसरो के शानदार दिमाग को सलाम, हमें गर्व है और विश्वास है चंद्रयान 2 जल्द ही चंद्रयान 3 के लिए रास्ता तय करेगा, हम फिर उठ खड़े होंगे।”

चंद्रयान 2 को लेकर देश में हर कोई उत्साह से भरा हुआ था। लेकिन लैंडर विक्रम का इसरो से संपर्क टूट जाने के बाद से हर कोई निराश है। नेता से लेकर अभिनेता तक हर कोई इसरो की सराहरना कर रहा है। पीएम मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों की तारीफ की है। पीएम मोदी ने कहा, देखिए जीवन में उतर चढ़ाव आते रहते हैं। उन्होंने कहा कि ये कोई छोटा अचीवमेंट नहीं है, देश आप पर गर्व करता है। बॉलीवुड हस्तियों ने भी इसरों के वैज्ञानिकों के इस प्रयास को सलाम किया है।

चंद्रयान 2: चांद पर लैंडिंग से 2.1 किलोमीटर पहले टूटा संपर्क और फिर…

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने भी वैज्ञानिकों की जमकर तारीफ की है। अभिनेता ने ट्वीट करते हुए कहा, ”बिना प्रयोग के कोई भी विज्ञान सफल नहीं हुआ है। कभी-कभी हम सफल होते हैं, कभी-कभी हम सीखते हैं। इसरो के शानदार दिमाग को सलाम, हमें गर्व है और विश्वास है चंद्रयान 2 जल्द ही चंद्रयान 3 के लिए रास्ता तय करेगा. हम फिर उठ खड़े होंगे।”

 

अमिताभ बच्चन ने भी ट्वीट में अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता लिखते हुए इसरो के प्रयास को सलाम किया है और इसरो को अपना गर्व बताया है। अमताभ बच्चन ने लिखा कि हमें इसरो पर गर्व है। तू ना थकेगा कभी, तू ना मुड़ेगा कभी, तू ना थमेगा कभी, कर शपथ कर शपथ कर शपथ। अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ!”

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने भी इसरो के वैज्ञानिकों के प्रयास को सलाम किया है और इसरो को अपना गर्व बताया है. ट्वीट में अभिनेता अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की एक कविता लिखी है। अमिताभ बच्चन ने लिखा, ”गर्व को कभी हार का सामना नहीं करना पड़ता। हमारा गौरव ही हमारी जीत है। इसरो पर गर्व है। तू ना थकेगा कभी, तू ना मुड़ेगा कभी, तू ना थमेगा कभी, कर शपथ कर शपथ कर शपथ. अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ!”

विक्रम लैंडर के नाम में क्या है विक्रम का राज़ ?

आपकी जानकारी के लिए बता दें चंद्रयान-2 के लैंडर ‘विक्रम का चांद पर उतरते समय इसरो से संपर्क टूट गया। चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम का संपर्क तब टूटा जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था। वहीं विशेषज्ञों का कहना है कि हम हार नहीं मानेंगे और इस मिशन को असफल नहीं कहा जा सकता। लैंडर से एक बार फिर संपर्क किया जा सकता है।