प्रियंका गांधी और राहुल गांधी कांग्रेस को दोबारा दिल्ली में खड़ा करने की कोशिश कर रहे हैं

झारखंड विधानसभा चुनाव के बाद अब दिल्ली विधानसभा बेहद नजदीक आ चुके हैं। दिल्ली में आए दिन कोई ना कोई बड़ा नेता अपनी रैली करने में लगा रहता है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दिल्ली में एक रैली की थी उसके बाद अमित शाह, मनोज तिवारी जैसे बड़े नेता बीजेपी के लिए वोट इकट्ठा करने में लगे हुए हैं। प्रियंका गांधी और राहुल गांधी भी कांग्रेस को दोबारा दिल्ली में खड़ा करने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। यह तो चुनाव के नतीजों के बाद ही पता चल पाएगा कि किसकी सरकार बनेगी।

देश के किसानों को मिला PM Modi की तरफ से New Year पर बड़ा तोहफा

Delhi-Assembly-Election-2020
जानकारी के लिए बता दें कि बता दें कि दिल्ली के विधानसभा चुनाव 8 फरवरी को होंगे और 11 फरवरी को नतीजे भी आ जाएंगे। दिल्ली का हर नागरिक यह मानता है कि पिछले 5 सालों में दिल्ली में बहुत ज्यादा काम हुआ है। केजरीवाल सरकार ने जमीनी तौर पर काम किया है और बिना पक्षपात के काम किया है। आम आदमी पार्टी ने कभी भी धर्म की राजनीति की नहीं की। इसलिए अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में कहा कि हम मंदिर या मस्जिद पर नहीं बल्कि अपने काम पर वोट मांगेंगे।

रामलीला मैदान में Modi ने TejashwiYadav को लेकर जेल में बंद लालू यादव को दी चेतावनी

Delhi-election-2020

PM Modi की बिगड़ी हालत, गंगा घाट पर अचानक गिर पड़े

दिल्ली की स्थिति जानने के लिए दिल्ली में सर्वे किया गया और जानने की कोशिश की गई कि इस बार विधानसभा चुनाव कौन सी पार्टी जीतने वाली है। इस सर्वे के मुताबिक दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से 59 सीटें आम आदमी पार्टी को मिल सकती है तो वहीं भाजपा को 8 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस को 3 सीटें मिलते हुए दिखाया गया है। अगर इस सर्वे के हिसाब से पार्टियों को सीटें मिल गई तो आम आदमी पार्टी एक बार फिर दिल्ली में अपनी सरकार बना लेगी।