हरियाणा बीजेपी के एक नेता द्वारा इस्तीफा देने की खबरे सामने आ रही है।

Image result for हरियाणा बीजेपी के एक नेता द्वारा इस्तीफा देने की खबरे सामने आ रही है।

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 अपने आखिरी पड़ाव पर हैं। वोटों की गिनती जारी है। बीजेपी लोगों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई है। इस बीच हरियाणा बीजेपी के एक नेता द्वारा इस्तीफा देने की खबरे सामने आ रही है। सूत्रों के मुताबिक उन्होंने यह इस्तीफा खुद अपने हाथों से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सौंपा हैं। सूत्रों के मुताबिक भारतीय जनता पार्टी 10 सीटों के नुकसान के साथ 37 सीटों से आगे चल रही हैं, वहीं 17 सीटों के फायदे के साथ कांग्रेस 32 सीटों पर पीछे है।

अमित शाह ने नेता को सुनाई खरी खोटी

 अमित शाह ने नेता को सुनाई खरी खोटी

दरअसल  भारतीय जनता पार्टी के हरियाणा अध्यक्ष सुभाष बराला ने अपने पद से पीछे हटते हुए इस्तीफा दे दिया है। हरियाणा के टोहाना से भाजपा उम्मीदवार सुभाष बराला चुनावी नतीजो में पीछे चल रहे हैं। पार्टी के मन मुताबिक नतीजे ना आने के बाद जिम्मेदारी लेते हुए सुभाष बराला ने इस्तीफा दे दिया। सूत्रों के मुताबिक भाजपा अध्यक्ष अमित शाह नतीजो को लेकर बराला से काफी नराज हैं। जिसके चलते अमित शाह ने उन्हे खरी खोटी सुनाई है। बता दें, हरियाणा में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ी टक्कर है। भारतीय जनता पार्टी 10 सीटों के नुकसान के साथ 37 सीटों से आगे चल रही हैं, वहीं 17 सीटों के फायदे के साथ कांग्रेस 32 सीटों पर पीछे है।

कांग्रेस ने जेजेपी को डिप्टी सीएम पद का ऑफर दिया है।

 कांग्रेस ने जेजेपी को डिप्टी सीएम पद का ऑफर दिया है।

वहीं, यहां दुष्यंत चौटाला की जेजेपी किंग मेकर की भूमिका में नजर आ रही है। ऐसे में दुष्यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी ने कांग्रेस से समर्थन के लिए आगे हाथ बढ़ाया है। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस ने जेजेपी को डिप्टी सीएम पद का ऑफर दिया है। वहीं, जेजेपी के नेता दुष्यंत चौटाला का कहना है कि उनकी पार्टी नई सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाने वाली है।उन्होंने कहा कि राज्य में अगर किसी पार्टी को बहुमत नहीं मिलता है तो उनकी पार्टी नई सरकार बनाने में एक अहम भूमिका निभाएगी।