आदित्य ठाकरे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे हैं जो महाराष्ट्र चुनाव 2019 से अपनी ताल ठोकने के लिए तैयार है।

राजनीति को पसंद करने वाला शायद ही कोई ऐसा इंसान होगा जो कन्हैया कुमार को ना जानता हो। जितने समय भी कन्हैया कुमार जवाहरलाल यूनिवर्सिटी में पढ़ें उतने ही समय वह चर्चा का विषय बने रहे। जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने का उन पर आरोप भी लगा। कन्हैया कुमार और शहला राशिद का ग्रुप हमेशा ही जेएनयू में चर्चा का विषय बना रहता था। हाल ही में उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी की तरफ से लोकसभा का चुनाव भी लड़ा। लेकिन इस चुनाव में उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा। काफी दिनों बाद अचानक उन्होंने शिवसेना के उभरते नेता आदित्य ठाकुरे को लेकर बड़ा बयान दे दिया है।

Image result for aditya thackeray and kanhaiya kumar

जानकारी के लिए बता दें कि ठाकरे परिवार का एक और सदस्य अब राजनीति में अपना कदम रखने वाले हैं। आदित्य ठाकरे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे हैं जो महाराष्ट्र चुनाव 2019 से अपनी ताल ठोकने के लिए तैयार है। जानकारी मिली है कि उन्होंने अपना नामांकन भी कर दिया है और अपनी संपत्ति का ब्यौरा भी दे दिया है। हाल ही में आदित्य ठाकरे और पत्रकार अंजना ओम कश्यप का विवाद भी काफी सुर्खियों में रहा था।

जानकारी के लिए बता दें कि आदित्य ठाकरे अपना पहला चुनाव मुंबई के वर्ली से लड़ने वाले हैं। वह अपने चुनाव प्रचार में भी पूरी तरह जान झोक रहे हैं। गुरुवार को उन्होंने अपनी चुनावी रैली भी निकाली थी। बताते चलें कि मुंबई के वर्ली से पहली बार कोई ठाकरे परिवार का आदमी चुनाव लड़ रहा है। आदित्य ठाकरे के राजनीति में उतरने को लेकर कन्हैया कुमार ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि सियासत हो या बिजनेस हर जगह वंशवाद हावी है। कन्हैया कुमार आगे बोले कि भाजपा भले ही वंशवाद के लिए गांधी और पवार की आलोचना करती हो। लेकिन उसकी 125 प्रत्याशियों की सूची में हर छठा प्रत्याशी नेता का बेटा है या बेटी है। यह वंशवाद नहीं है तो क्या है?