पिछले साल Corona virus के चलते ज़्यादातर त्यौहार घर पर रहकर ही मनाए गए लेकिन इस बार Corona virus का असर कुछ कम है। मौजूदा हालात देखते हुए राज्य सरकार इस बार प्रदेश के सभी शहरी क्षेत्रों में Diwali Mele का आयोजन कराने जा रही है।

प्रभारी अपर मुख्य सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह ने इस संबंध में बुधवार को शासनादेश जारी कर दिया है। बता दें कि यह Mela 28 अक्तूबर से शुरू होकर चार नवंबर को समाप्त होगा।

शासनादेश में कहा गया है कि Mele के आयोजन के लिए शहरों में पर्याप्त व समुचित स्थान का चयन किया जाएगा। इसमें पटरी विक्रेताओं के लिए उपयुक्त स्थान चिह्नित किया जाएगा। इसमें फूड स्टाल, मनोरंजन के झूले आदि व सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। Mela स्थल के पास पार्किंग की समुचित व्यवस्था की जाएगी।

स्ट्रीट वेंडर के लिए समुचित स्थान की व्यवस्था की जाएगी। इसका मकसद पटरी दुकानदारों का कारोबार बढ़ाना है। पटरी दुकानदारों को इसके लिए समुचित स्थान उपलब्ध कराया जाएगा। साथ में फूड स्टाल व बच्चों के लिए सुरक्षित प्रकार के झूले आदि भी लगवाए जाएंगे। Mele में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। इसके लिए मंच की व्यवस्था की जाएगी।

Diwali Mele को आकर्षक बनाने के लिए सेल्फी, सेल्फी विद ग्रेट लीडर्स और विभिन्न प्रकार के पोस्टर, स्लोगन आदि की प्रगतियोगिताएं आयोजित कराई जाएंगी। Mela स्थल पर सफाई की विशेष व्यवस्था की जाएगी। Covid -19 से बचाव के भी जरूरी उपाय किए जाएंगे। स्वनिधि योजना के लाभार्थियों के एक डेडीकेटड पंजीकरण डेस्क की व्यवस्था भी की जाएगी।

प्रत्येक शहर में इसके लिए डीएम की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी। प्रभारी अधिकारी स्थानीय निकाय इसके सदस्य सचिव होंगे। एसएसपी, एसपी, सीएमओ, ईओ, जिला सूचना अधिकारी व डीएम द्वारा नामित एक अधिकारी इसका सदस्य होगा। Mela स्थल का चयन 16 अक्तूबर से शुरू कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: UP के सभी Secondary Schools में Yogi सरकार लागू करने करने…

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है