Sharab पीने के शौकीन लोगों के लिए ये ख़बर किसी ख़ुशख़बरी से कम नहीं होगी दरअसल Delhi सरकार ने साल 2021-22 के लिए एक्साइज पॉलिसी की घोषणा की है। इसके तहत अब Sharab की दुकान को ‘वाक-इन’ सुविधा देनी होगी यानी अब ग्राहक काउंटर पर खड़े होकर Sharab या दुकान के बाहर भीड़ लगाकर नहीं खरीदेगा बल्कि दुकान इस तरह से डिजाइन की जाएगी कि ग्राहक अंदर आकर अपनी पसंद की शराब सेलेक्ट करके खरीद सके। यही नहीं, Sharab की दुकानें एयर कंडीशनर होंगी।

Delhi में हर Sharab की दुकान के अंदर और बाहर CCTV कैमरा लगे होंगे जिसमें एक महीने की रिकॉर्डिंग मेंटेन की जाएगी। लाइसेंस धारक दुकान पर उचित सुरक्षा व्यवस्था का प्रबंध करेगा। Sharab की दुकान के आसपास लॉ एंड ऑर्डर की जिम्मेदारी लाइसेंसधारक की होगी।

होटल, रेस्टोरेंट और क्लब में जो बाहर हैं उनको रात 3:00 बजे तक खुलने की इजाजत होगी। बैंक्विट हॉल्स, पार्टी प्लेस/ फार्म हाउस/ मोटेल/ शादी/ पार्टी इवेंट वेन्यू जैसी जगहों के लिए L-38 नाम से नए लाइसेंस की व्यवस्था की गई है। अभी तक इनको अपने यहां Sharab परोसने के लिए अस्थाई लाइसेंस लेना होता था लेकिन अब एक ही बार मे लाइसेंस फ़ीस देकर पूरे साल का लाइसेंस मिल जाएगा। पॉलिसी में कहीं भी L-13 लाइसेंस का ज़िक्र नहीं, इसी के तहत Sharab की होम डिलीवरी की बात थी।

नई एक्‍साइज पालिसी के अनुसार, अगर Sharab की दुकान के चलते कोई समस्या या हंगामा हुआ या पासपड़ोस के लोगों ने सरकार को शिकायत की तो लाइसेंस रद्द किया जा सकता है। लाइसेंसधारक यह सुनिश्चित करेगा कि Sharab की दुकान के एकदम बाहर स्नैक्स या खाने की कोई दुकान न खुले जिससे लोग वहीं Sharab पीना शुरू कर दें। Delhi के अंदर 272 म्युनिसिपल वार्ड हैं, एक वार्ड में औसत 3 दुकानें होंगी। नई Delhi और Delhi Cantt Assembly में कुल 29 Sharab की दुकानें होंगी। इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 10 Sharab की दुकानें होंगी।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है