ज़हरीली हवा से Delhi-NCR वालों को हो रहे परेशानी, AQI भी ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंचा

0
191

मौसम बदल रहा है साथ ही हवा भी ख़राब हो गई है। Delhi को प्रदूषित हवा से निजात नहीं मिलती नज़र आ रही है। Delhi में मंगलवार(1 नवंबर) को भी धुंध छाई रही जिससे कई इलाकों में हवा की गुणवत्ता ‘गंभीर श्रेणी’ में पहुंच गई। Delhi के धीरपुर में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 594 ‘गंभीर’ श्रेणी में जबकि नोएडा (यूपी) में यह (Air Quality Index, AQI) 444 ‘गंभीर श्रेणी’ में दर्ज किया गया।

गुरुग्राम (हरियाणा) में भी हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पाई गई जहां AQI 391 यानी ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया। Delhi का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) मंगलवार को सुबह 385 यानी बहुत खराब श्रेणी में दर्ज किया गया। Delhi में सोमवार को AQI 392 यानी बहुत खराब श्रेणी में रहा। यह रविवार को 352 था। Delhi में प्रदूषण का स्तर बिगड़ने की वजह से केंद्र की वायु गुणवत्ता समिति ने प्राधिकारियों को Delhi-NCR में निर्माण गतिविधियों पर रोक लगाने का निर्देश दिया है। केवल आवश्यक परियोजनाओं को ही छूट दी जाएगी।

Delhi के लोग पिछले पांच दिनों से भीषण प्रदूषण का सामना कर रहे हैं। सोमवार को Delhi के 17 इलाकों की हवा गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई। इस दौरान हवा में प्रदूषक कणों की मात्रा मानकों से लगभग तीन गुना तक ज्यादा बनी हुई है। वायु गुणवत्ता विशेषज्ञ इसके लिए पराजी जलाने की घटनाओं को भी जिम्मेदार मान रहे हैं। हवा की गुणवत्ता बिगड़ने के कारण फेफड़े, सांस, दमा एवं दिल के मरीजों, बच्चों एवं बुजुर्गों को सांस लेने में दिक्कत हो सकती है।

यह भी पढ़ें – जानें, फैंस से मिलते वक़्त Amitabh Bachchan क्यों उतार देते हैं अपने जूते

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है