Delhi में लगने जा रहा है #Lockdown!

0
163

Diwali क्या गई Delhi में हर तरफ हर दिन Air Pollution का ही ज़िक्र हो रहा है। Air Pollution की वजह से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। Delhi दिन-प्रतिदिन गैस चैंबर बनती जा रही है। इस पर Air Pollution के खतरे को देखते हुए दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान Supreme Court ने सरकार को फटकार लगाई और कहा कि प्रदूषण के लिए किसानों को कोसना एक फैशन बन गया है।

Supreme Court ने प्रदूषण पर नियंत्रण पाने के लिए Lockdown का भी सुझाव दिया। भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने केंद्र को बताया कि Air Pollution एक गंभीर स्थिति है। उन्होंने कहा कि हमें घर पर भी मास्क पहनकर रहना पड़ रहा है।

Supreme Court ने 13 नवंबर को Delhi में Air Pollution पर सुझाव दिया कि केंद्र और Delhi सरकार उच्च प्रदूषण के स्तर को देखते हुए Delhi में दो दिनों का Lockdown करने पर विचार कर सकती है। Supreme Court ने केंद्र से पूछा कि Air Pollution से निपटने के लिए उसने क्या कदम उठाए हैं। SC ने केंद्र को बताया कि वह कहता है कि पराली जलाने के लिए 2 लाख मशीनें उपलब्ध हैं और बाजार में 2-3 तरह की मशीनें उपलब्ध हैं, लेकिन किसान उन्हें खरीद नहीं सकते हैं। केंद्र/राज्य सरकारें किसानों को ये मशीनें क्यों नहीं दे सकतीं या वापस ले सकती हैं?

Supreme Court ने केंद्र से पूछा- हमें बताएं कि हम एक्यूआई को 500 से कम से कम 200 अंक कैसे कम कर सकते हैं। कुछ जरूरी उपाय करें। क्या आप दो दिन के Lockdown या कुछ और के बारे में सोच सकते हैं? लोग कैसे रह सकते हैं?

दिल्ली में Air Pollution पर याचिका पर सुनवाई के दौरान Supreme Court  ने केंद्र से कहा- छोटे बच्चों को इस मौसम में स्कूल जाना है, हम उन्हें इसके खतरे में ला रहे हैं। डॉ गुलेरिया (एम्स) ने कहा कि हम बच्चों को प्रदूषण, महामारी और डेंगू के खतरे के संपर्क में ला रहे हैं। Supreme Court  ने Delhi सरकार से भी प्रदूषण को लेकर कहा, आपने राष्ट्रीय Delhi में सभी स्कूल खोल दिए हैं और अब बच्चे प्रदूषण के संपर्क में हैं। यह केंद्र का नहीं बल्कि आपका अधिकार क्षेत्र है। उस मोर्चे पर क्या हो रहा है?

SC ने कहा कि पराली समस्या का हिस्सा हो सकती है लेकिन एकमात्र कारण नहीं है। Supreme Court ने कहा कि अब किसानों को कोसना एक फैशन बन गया है चाहे वह Delhi सरकार हो या कोई और। पटाखों पर बैन था, उसका क्या हुआ?

Supreme Court ने कहा, Supreme Court ने केंद्र से कहा कि Delhi में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में है और अगले 2 से 3 दिनों में यह और कम हो जाएगी। आपातकालीन निर्णय लें। हम बाद में दीर्घकालिक समाधान देखेंगे।

यह भी पढ़ें – भारत के ये शहर माने जाते हैं Polluted, दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों मे है इनका ये स्थान

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है