दिवाली पर पटाखे जलाने को लेकर सीएम केजरीवाल का बड़ा बयान

0
586
Kejriwal

दिल्ली: राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते आंकड़े और प्रदूषण के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों के बीच आकर आवाहन किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वालों से इस दिवाली पटाखे ना जलाने की अपील करते हुए कहा है कि इस बार सभी एक साथ ही लक्ष्मी पूजा करें। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिवाली के दिन सभी लोग 7.39 पर लक्ष्मी पूजा का कार्यक्रम करें और इस दौरान वह कोरोना और प्रदूषण को राजधानी से खत्म करने का संकल्प लें।

आपको बता दें सीएम केजरीवाल ने यह बात एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही। केजरीवाल ने कहा कि इस वक्त लोग कोरोना और प्रदूषण से लड़ रहे हैं। हम सब का पूरा प्रयास यही है कि हम इन दोनों को हराकर अपनी पुरानी दिल्ली ले पाएं। सीएम केजरीवाल ने कहा कि प्रदूषण के कारण कोरोना की स्थिति पहले से बदतर होती जा रही है। इतना ही नहीं हर साल इस महीने राजधानी में प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि पड़ोसी राज्यों से पराली जलाने के बाद आने वाले प्रदूषण के कारण दिल्ली वालों को सांस से जुड़ी दिक्कतें होने लगती है, जोकि चिंताजनक है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि अब तक सरकारों द्वारा इसे लेकर कोई ठोस कदम तो नहीं उठाया गया लेकिन हमारी सरकार ने इसे लेकर एक अच्छा समाधान तलाश लिया है।

दिल्ली सरकार और पूसा इंस्टीट्यूट ने तैयार किया पराली गलाने वाला केमिकल
दिल्ली सरकार ने पूसा इंस्टीट्यूट के साथ मिलकर एक केमिकल बनाया है जो पराली पर डालने से वह खाद में बदल जाता है। इसके बाद मुझे उम्मीद है कि यह आखिरी साल होगा जब पराली जलाई जाएगी। अगले साल से सभी राज्य इस केमिकल का प्रयोग करेंगे।

शपथ लें नहीं जलाएंगे पटाखे
केजरीवाल ने आगे कहा कि हमने पिछली बार पटाखे न जलाने की शपथ ली थी और कनॉट प्लेस में एक साथ दिवाली मनाई थी। इस बार भी हम सब लोग मिलकर दिवाली मनाएंगे। इस बार भी हम पटाखे नहीं जलाएंगे, अगर हमने पटाखे जलाए तो अपने ही बच्चो की जिंदगी के साथ खेलेंगे।

अलग तरीके मनाएंगे दिवाली
केजरीवाल ने कहा कि इस बार हमने दिवाली के लिए अलग इंतजाम किया है। इस बार हम दिवाली के दिन 14 नवंबर को शाम 7.39 पर दो करोड़ लोग मिलकर लक्ष्मी पूजन करेंगे। मैं अपने मंत्रियों के साथ दिल्ली में एक जगह लक्ष्मी पूजन शुरू करूंगा, कुछ टीवी चैनल उसका सीधा प्रसारण करेंगे।

उन्होंने अपील की कि आप सभी अपने टीवी चैनल लगाकर उस समय हमारे साथ लक्ष्मी पूजन करें। अगर हम दो करोड़ लोग उस दिन एक साथ लक्ष्मी पूजन करेंगे, रामचंद्र जी के वनवास से लौटने का स्वागत पर्व मनाएंगे तो पूरी दिल्ली के अंदर एक अद्भुत माहौल होगा। पूरी दिल्ली में पॉजिटिव तरंगें फैलेंगी और मंगल ही मंगल होगा।