केजरीवाल का ऐलान, नए इंडस्ट्रियल एरिया में किसी मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट को नहीं होगी इजाजत

0
386
Arvind Kjeriwal

दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अहम ऐलान किया। उन्होंने कहा कि यहां के नए इंडस्ट्रियल इलाकों में किसी भी मैन्यूफैक्चरिंग गतिविधि को इजाजत नहीं होगी। सिर्फ सर्विस और हाई-टेक इंडस्ट्रीज को इजाजत होगी। केजरीवाल ने कहा कि केंद्र ने नए इंडस्ट्रियल इलाकों को लेकर दिल्ली सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और इसका नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। उन्होंने इसे ऐतिहासिक कदम बताया।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था मुख्य तौर पर पर सर्विस और हाई-टेक इंडस्ट्री पर निर्भर है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सर्विस इंडस्ट्री को सस्ते दाम में जगह उपलब्ध कराई जाएगी। दिल्ली सरकार के इस फैसले के पीछे मुख्य कारण राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण की समस्या है।

केजरीवाल ने बताया कि केंद्र सरकार ने दिल्ली को लेकर एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि यह प्रस्ताव दिल्ली सरकार ने कुछ साल पहले केंद्र सरकार को भेजा था। इस फैसले से दिल्ली के औद्योगिक क्षेत्रों की सूरत बदल जाएगी।इस वक्त दिल्ली में कई सारे ऐसे निर्माण के उद्योग लगे हैं जो बहुत प्रदूषण फैलाते हैं। लेकिन अब से दिल्ली के किसी भी नए औद्योगिक क्षेत्र में हाईटेक और सर्विस इंडस्ट्री ही लगाई जा सकेगी। केजरीवाल ने ये भी कहा कि इसके साथ ही पुराने औद्योगिक क्षेत्र में लोगों से उम्मीद करेंगे कि वह निर्माण से जुड़े उद्योग की जगह हाईटेक या सर्विस इंडस्ट्री लगा लें।