Shahjahanpur से भी उन्नाव जैसी ही एक खबर सामने आ रही है। मामला कांट थाना इलाके के भानपुर गांव का है। जहां दो मासूम खेत में पड़ी मिलीं।जिनमें से एक की मौत हो चुकी है जबकि दूसरी की हालत नाजुक बताई जा रही है। आखिर खेत में कैसे पहुंची मासूम बच्चियां? चलिए आपको पूरा माजरा समझाते हैं। दरअसल दो चचेरी बहनें रोजाना की तरह मदरसे में पढ़ने गई थीं लेकिन वापस घर नहीं लौटीं। जिसके बाद गांव वालों ने दोनों मासूमों की तलाश शुरू कर दी। परिवार के लोगों ने मदरसे से लेकर गांव में बच्चियों को ढ़ूंढ़ा, रिश्तेदारों को फोन किया लेकिन बच्चियों का कुछ पता नहीं चल सका। काफी देर तक ढ़ूढ़ने के बाद दोनों बहनें सरसों के खेत में पड़ी मिलीं। एक बच्ची का मुंह कुचलकर हत्या कर दी गई थी वहीं दूसरी भी खून से लथपथ मिली जो जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रही थी

आशंका जताई जा रही है कि Shahjahanpur में हुई इस वारदात को अंजाम देने वाले दोनों बच्चियों को मरा हुआ समझकर फरार हो गए। इसके अलावा दोनों बच्चियों के साथ दुष्कर्म की संभावना भी जताई जा रही है। परिजनों ने जब दोनों बच्चियों को खून से लथपथ हालत में देखा तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। आनन फानन में पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। जिसके बाद पुलिस ने एक लड़की के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है..वहीं दूसरी बच्ची को मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कर दिया गया था जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे बरेली हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है

दूसरी मासूम अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रही है। दुआ तो यही करेंगे की ये मासूम जल्द ही स्वस्थ होकर परिवार के बीच लौटेगी साथ ही इस पूरे कांड का पर्दाफाश भी करेगी। Shahjahanpur पुलिस के लिए भी गुनहगारों तक पहुंचना किसी चुनौती से कम नहीं है ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि मासूम के गुनहगार सलाखों के पीछे कब तक पहुंचते हैं।

यह भी पढ़ें: उन्नाव केस: क्या जहरीले Chips खाने से हुई मौत?

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है