Coronavirus से लोग परेशान हैं लेकिन ये भी एक सच है कि लोग इससे भी ज़्यादा बेरोज़गारी से परेशान हैं। इस बात का फ़ायदा उठाकर लोग ठगी करने से बाज़ नहीं आ रहे हैं। फेसुबक, ट्वीटर, WhatsApp जैसे सोशल मीडिया प्लैटफार्म पर आजकल फर्जी योजनाओं के नाम पर लोगों से ठगी का धंधा काफी तेजी से फलफुल रहा है। पिछले कई दिनों से Whatsapp पर वायरल एक Message में दावा किया जा रहा है कि ‘प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना’ के तहत भारत सरकार सभी बेरोजगारों को प्रतिमाह 3500 रुपये दे रही है। अगर आपने भी इस Message को अपने मोबाइल पर देखा है और इसे फॉरवर्ड किया है तो सावधान हो जाएं। ऐसी किसी भी Fake website पर अपनी निजी जानकारी साझा न करें।

यह दावा झूठा है और Fact Check में यह फर्जी पाया गया है। PIBFactCheck ने अगाह करते हुए कहा है कि ये दावा और दिया गया ब्लॉग लिंक फर्जी है। भारत सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। PIB भारत सरकार की नीतियों, कार्यक्रम पहल और उपलब्धियों के बारे में समाचार-पत्रों व इलेक्‍ट्रॉनिक मीडिया को सूचना देने वाली प्रमुख एजेंसी है। PIB ने कहा है कि यह दावा फर्जी है। Central Government द्वारा ऐसी किसी योजना से संबंधित कोई घोषणा नहीं की गई है। बता दें इसी तरह का एक Viral message कुछ महीने पहले एक Viral message में दावा किया गया कि बढ़ती बेरोजगारी को देखते हुए Budget 2021 के अनुसार इस महाशिवरात्रि पर Modi सरकार बेरोजगारों को घर बैठे प्रीतिदिन 1000 से 2000 कमाने का मौका दे रही है। ये दावा भी फर्जी निकला।

यह भी पढ़ें: जीवनदीप समिति की फर्जी रसीद से, तहसीलदार ने बटोरी लाखों की रकम

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है