उत्तराखंड के हरिद्वार में दुष्कर्म के बाद 11 साल की बच्ची की हत्या के मामले में 4 दिन से फरार आरोपी मामा की गिरफ्तारी न होने से नाराज विभिन्न संगठनों के लोगों ने बुधवार को शहर की सड़को पर जाम लगा दिया.  जिसकों  डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस ने खुलवाया. लेकिन तब तक पूरा शहर जाम की भेट चढ़ चुका था.

पुलिस ने यातायात व्यवस्था बनाने के लिए रूट डायवर्ट किया. साथ ही लोगों ने आरोप लगाया कि मासूम की हत्या का आरोपी रविवार को पुलिस के सामने से फरार हुआ है. लेकिन अभी तक आरोपी को पुलिस पकड़ने में नाकाम साबित हुई है, जबकि आरोपी के बारे में पुलिस को सब कुछ पता चल चुका है. लोगों का कहना है कि  कई बार आश्वासन देने के बावजूद पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी नहीं कर सकी. इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचें, जहा हरीश रावत ने लोगों को आश्वासन दिया की उनकी मुख्यमंत्री से बातचीत हुई है इसके साथ ही उच्च अधिकारियों से भी संज्ञान लिया गया है अगर मामले में कोई सुनवाई नहीं होती तो विधानसभा में इस मुद्दे को उठाया जायगा

वही दूसरी और समाज का हर वर्ग हर इंसान पीड़िता के साथ खड़ा है, किन्नर समाज द्वारा हरिद्वार के ऋषि कुल चौराहे पर पहुंच पीड़िता के लिए मोमबत्ती जलाकर ईश्वर से उसकी पुण्यात्मा के लिए कामना की, साथ ही किन्नरों के अध्यक्ष मोनिका ने कहा कि जिस तरह से बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना हुई है अपने आप में शर्मसार करने वाली घटना है हम वर्तमान सरकार से मांग करते हैं कि ऐसे आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, साथ ही ऐसी मानसिकता वाले लोगों के लिए कठिन से कठिन कानून बने जिससे कोई भी व्यक्ति ऐसा काम करने से पहले 10 बार सोचें, वहीं हरिद्वार की अध्यक्ष किन्नर भी अपने साथी के साथ पहुंची उन्होंने भी कहा कि जल्द ही बेटी को इंसाफ मिले

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है