Congress नवसंकल्प शिविर का हुआ आगाज़, जानें क्या हैं 9 बड़े प्लान

0
338

Congress नवसंकल्प शिविर की शुरुआत हो गई है। शुक्रवार(13 मई) को Congress के महासचिव व राजस्थान के प्रभारी अजय माकन ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि शिविर के बाद Congress पार्टी के ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन होने जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने नवसंकल्प शिविर में किन मुद्दों पर चर्चा की जाएगी, उसके बारे में भी बताया। हम अपनी इस खास रिपोर्ट में बता रहे हैं Congress के उन 9 बड़े प्लान्स के बारे में, जिनके भरोसे पार्टी आने वाले विधानसभा चुनावों के साथ 2024 की सत्ता का सपना देख रही है।

Congress के 9 बड़े प्लान्स

  1. संगठन में होंगे बड़े बदलाव

  2. पैराशूट नेताओं की नो एंट्री

  3. अब बूथ और ब्लॉक के बीच होंगे मंडल

  4. परमानेंट सर्वे डिपार्टमेंट बनाएंगे

  5. रिवार्ड और सजा का प्लान

  6. अनुशासन को मजबूत करेंगे

  7. युवाओं का मौका

  8. पदों पर नियुक्ति

  9. महिलाओं पर फोकस

होटल अरावली ताज में Congress नेता माकन ने बताया कि संगठन को लेकर बने Congress के पैनल ने पार्टी में आमूलचूल परिवर्तन के लिए सुझाव दिए हैं। उन पर चर्चा की जा रही है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस पार्टी के ढांचे में अब तक वही पद चले आ रहे थे जो सालों पहले थे। लेकिन अब उसमें बूथ लेवल से लेकर ऊपर तक बदलाव किया जा रहा है। कुछ चीजें हमारे संविधान में पहले से थी, लेकिन उनको अमल में नहीं लाया जा सका।

माकन ने कहा कि पार्टी एक परिवार एक टिकट के फॉर्मूले पर काम करेगी। किसी भी नेता का रिश्तेदार, बेटा या बेटी को टिकट तभी मिल सकेगा, जब तक कि वे पांच साल पार्टी में काम नहीं करेंगे। यानी पैराशूट से कोई नेता नहीं उतारा जाएगा।

भाजपा की तरह ही अब Congress में भी मंडलों का गठन किया जाएगा। हर पंद्रह बीस बूथों पर एक मंडल होगा। तीन से चार मंडलों पर एक ब्लॉक का गठन किया जाएगा। इसके गठन के लिए भी एक प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

माकन ने बताया कि अक्सर चुनाव के समय ही हम कुछ प्राइवेट एजेंसी से सर्वे करवाते रहे हैं। लेकिन अब तय किया गया है कि Congress का इंटरनल पब्लिक इनसाइड डिपार्टमेंट होगा। इस डिपार्टमेंट में शामिल लोग लगातार जनता के बीच फीडबैक लेंगे। जनता किन मुद्दों पर क्या चर्चा कर रही है, उसके आधार पर चुनावी रणनीति तैयार की जाएगी।

माकन ने कहा कि जो कार्यकर्ता अच्छा काम कर रहे हैं, उनको रिवार्ड नहीं दिया जाता है और जो काम नहीं कर रहे हैं या खराब काम कर रहे हैं, उन्हें सज़ा नहीं मिलती है। इसको लेकर Congress में असेस्टमेंट विंग बनाने का सुझाव है। यह विंग तय करेगी कि कौन कार्यकर्ता बेहतर काम कर रहा है और उसका क्या रिवॉर्ड देना चाहिए? जो लोग खराब काम या पार्टी के विरोध में काम करेंगे, उन्हें सज़ा का प्रावधान किया जाएगा।

Congress के नेता माकन ने कहा कि हम पार्टी में अनुशासन को और मजबूत करेंगे। इसके लिए हर स्तर पर अनुशासन कमेटी बनेगी। शिविर में इस पर चर्चा की जाएगी।

Congress नेता ने बताया कि चिंतन शिविर में जो कमेटियां गठित की गई है, उनमें पचास प्रतिशत लोग 50 साल से कम उम्र के हैं। आगे भी इसको लागू रखा जाएगा।

कोई भी व्यक्ति पांच साल से अधिक किसी एक पद पर नहीं रह सकेगा। इन पदाधिकारियों को अपनी परफार्मेंस देनी होगी। अच्छा काम नहीं करने पर उन्हें तीन साल तक पद से मुक्त रखा जाएगा। पार्टी में काम करने पर आगे मौका दिया जाएगा।

Congress युवाओं के साथ महिला वोटर्स पर भी फोकस करने की तैयारी में है। यूपी विधानसभा चुनाव में पार्टी ने प्रियंका गांधी के नेतृत्व में इसी रणनीति पर काम किया था। अब इसे आगे भी लागू रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें – UAE के राष्ट्रपति शेख Khalifa bin Zayed Al Nahyan का निधन

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है