अब तक जो हुआ वो हुआ लेकिन अब Congress जीत का कोई मौक़ा हाथ से जाने नहीं देना चाहती। लखीमपुर खीरी में रविवार(3 अक्टूबर) को हुए बवाल के बाद से Congress काफी ऐक्टिव दिख रही है। यहां तक कि राज्य में मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी और बीएसपी के मुकाबले भी उसकी सक्रियता अधिक नजर आ रही है।

इस बार खुद Priyanka Gandhi सड़क पर उतरी हैं और पुलिस ने उन्हें 11 नेताओं समेत गिरफ्तार कर लिया है। यही नहीं नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार तक केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे की गिरफ्तारी न होने और Priyanka Gandhi  को न छोड़ने पर पंजाब से लखीमपुर तक कांग्रेस के मार्च का अल्टीमेटम दे दिया है। कहा जा रहा है कि इस घटना ने UP में बेहद कमजोर और पंजाब में बंटी हुई दिख रही Congress में नई जान फूंक दी है। दरअसल इसकी वजह लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों का सिख समुदाय से ताल्लुक होना भी है। इसके चलते Congress UP से लेकर पंजाब तक सक्रिय दिख रही है।

Congress के मामलों की जानकारी रखने वालों को कहना है कि इस मामले का फायदा पार्टी पंजाब में भी उठाना चाहती है। पंजाब में इस बार के चुनाव पूरी तरह से किसान केंद्रित हो गए हैं। इसके अलावा राज्य की बहुसंख्यक सिख आबादी को भी देखते हुए वह इस मामले में सक्रिय हुई है। पश्चिम उत्तर प्रदेश की प्रभारी Priyanka Gandhi  ने इस मामले में मोर्चा संभाला तो पूरी पार्टी उनके पीछे एकजुट नजर आ रही है। माना जा रहा है कि यह मामला उसे UP से लेकर पंजाब तक बढ़त दिला सकता है। एक तरफ यह घटना यूपी की होने की वजह से उसे इस प्रांत में फायदा मिलेगा तो वहीं सिख ऐंगल जुड़ने के चलते वह पंजाब में भी इससे बढ़त लेने की कोशिश में है। Priyanka Gandhi की ये तैयारी Congress को कितनी कामयाबी दिलाएगा ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है