CM Yogi का आदेश, मंदिर हो या मस्जिद तेज़ आवाज़ पर उतार दिए जाएं Loudspeaker

0
447

Loudspeaker का विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। महाराष्‍ट्र से लेकर UP तक चल रहे Loudspeaker विवाद के बीच Yogi सरकार ने बड़ी पहल की है। सरकार ने यूपी में मंदिर-मस्जिद सहित सभी धर्मस्‍थलों पर तय मानकों के मुताबिक Loudspeaker को कम आवाज़ में बजाने को कहा है। नियमों का उल्लंघन पाए जाने पर इन्हें उतारने का आदेश दिया है।

राज्य में अब तक 100 से अधिक Loudspeaker उतारे जा चुके हैं, जबकि हज़ारों की आवाज़ कम हो चुकी है। सरकार ने ऐसे धर्मस्थलों की थानावार सूची बनाने का आदेश दिया है, जहां ध्वनि सीमा के मानकों का पालन नहीं हो रहा है। दरअसल, पिछले दिनों रामनवमी और हनुमान जयंती के मौके पर देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में हुई हिंसा और तनावपूर्ण घटनाओं को देखते हुए Yogi सरकार तुरंत सतर्क हो गई थी।

देश के सबसे ज़्यादा आबादी वाले राज्‍य उत्‍तर प्रदेश में कई जिले इस मामले में काफी संवेदनशील माने जाते हैं। इसे मद्देनज़र रखते हुए CM Yogi ने त्‍योहारों पर शांति बनाए रखने के लिए सभी पुलिस अधिकारियों की छुट्टि‍यां 4 मई तक रद्द कर दीं। इसके साथ ही किसी भी धार्मिक जुलूस या शोभायात्रा के लिए आयोजक से शपथ पत्र लेने और धार्मिक स्‍थलों पर नियमों का पालन कराए जाने के आदेश दिए। इतना ही नहीं सरकार ने धार्मिक स्‍थलों पर चाहे वे मंदिर हों, मस्जिद हों या फिर किसी अन्‍य धर्म-समुदाय के स्‍थल, Loudspeaker के प्रयोग के लिए गाइडलाइन जारी कर दी।

नई गाइडलाइन के मुताबिक धर्मस्‍थल पर बजने वाले Loudspeaker की आवाज़ उस स्‍थल के परिसर से बाहर नहीं जानी चाहिए। देश के अलग-अलग हिस्‍सों में विवाद के बाद UP में की गई जांच-पड़ताल में पाया गया था कि कई धर्मस्थलों में निर्धारित मानक का उल्लंघन करते हुए अधिक संख्या में Loudspeaker  बजाए जा रहे हैं। जिलों की रिपोर्ट मंडलायुक्तों के माध्यम से और कमिश्नरेट की रिपोर्ट पुलिस आयुक्त के माध्यम से शासन को भेजी जाएगी। शासनादेश में कहा गया है कि धर्मगुरुओं से संवाद और समन्वय के आधार पर अवैध Loudspeaker को हटवाया जाए और निर्धारित डेसिबल का पालन कराया जाए।

यह भी पढ़ें – Radhika Madan संग इस फिल्म में रोमांस करेंगे Akshay Kumar 

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है