CM Yogi ने Doctors को दिया तोहफा या सज़ा, 5 साल बढ़ेगी डॉक्टरों की Retirement Age

0
88

बीमार इंसान को Doctor में भगवान नज़र आता है और अब धरती के भगवान ज़्यादा वक़्त तक लोगों की मदद कर सकेंगे। उत्तर प्रदेश के CM Yogi Adityanath ने Doctors के रिटायरमेंट की उम्र 5 साल बढ़ाने का फैसला लिया है। इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

CM Yogi के इस फैसले को लेकर Doctors के बीच कहीं खुशी कहीं गम जैसा माहौल है। Doctors का एक वर्ग इसका विरोध कर रहा है तो एक वर्ग इससे उत्साहित भी है। बता दें कि Doctors के रिटायरमेंट की उम्र फिलहाल 65 साल है। CM Yogi ने इसे 5 साल बढ़ाकर 70 साल करने का फैसला लिया है। CM Yogi के इस फैसले के पीछे Corona काल में Doctors की संख्या में कमी को बड़ी वजह माना जा रहा है। यह भी कहा जा रहा है कि Doctors की Retirement Age बढ़ने से उनके अनुभव का ज्यादा से ज्यादा लाभ लिया जा सकेगा। हालांकि, सरकार का यह फैसला लागू होने से पहले ही विवाद भी शुरू हो गए हैं।

लखनऊ के संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान की फैकल्टी फोरम ने CM Yogi के इस फैसले का विरोध किया है। फोरम के सदस्यों का कहना है कि उम्र बढ़ने के साथ ही कई तरह की शारीरिक और मानसिक समस्याएं शुरू हो जाती हैं। ज्यादा उम्र के डॉक्टर मरीजों का बेहतर इलाज नहीं कर पाएंगे। इससे मरीजों का फायदा होने के बजाय नुकसान ही होगा। इसके अलावा अगर यह फैसला लागू होता है तो नए छात्रों के लिए फैकल्टी मेंबर की सीटें भी नहीं बढ़ पाएंगी जिससे नए Doctors को मौका नहीं मिल पाएगा। फोरम ने इस मामले में विरोध दर्ज कराने के लिए जनरल बॉडी मीटिंग बुलाने का निर्णय लिया है। दूसरी तरफ, कुछ डॉक्टर इस फैसले के समर्थन में भी आ गए हैं। ऐसे Doctors का कहना है कि राजनीति में 75 साल से ज्यादा उम्र वाले व्यक्ति काम कर रहे हैं। ऐसे में अगर डॉक्टर स्वस्थ हैं तो वह भी 70 साल की उम्र तक काम कर सकते हैं।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि Corona की पहली और दूसरी लहर में Doctors की कमी से तमाम समस्याएं देखने को मिली थीं। हमें Doctors और उनके अनुभव की ज्यादा जरूरत है इसलिए ऐसा प्रस्ताव बनाया गया है। उन्होंने कहा कि CM Yogi ने इस प्रस्ताव पर अपनी सहमति दे दी है और जल्द ही इसे कैबिनेट में पेश किया जाएगा। कैबिनेट से मंजूरी मिलते ही यह व्यवस्था लागू कर दी जाएगी। इससे पहले साल 2018 में भी सरकार ने Doctors के रिटायरमेंट की उम्र 5 साल बढ़ाकर 70 साल करने का प्रस्ताव बनाया था लेकिन किसी वजह से उसे कैबिनेट में पेश नहीं किया जा सका।

जो डॉक्टर इस बीच 62 साल की उम्र में वीआरएस लेना चाहेंगे, उन्हें रिटायर करने की सुविधा भी दी जाएगी। इस पूरे मामले में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना का कहना है कि रिटायरमेंट के बाद अक्सर डॉक्टर अपना क्लीनिक खोल लेते हैं या किसी बड़े अस्पताल में सेवाएं देते हैं। इससे बेहतर है कि वह अपनी सेवाएं सरकार के लिए जारी रखें।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है