Chhath Ghat निरीक्षण करने गए CM Nitish Kumar का स्टीमर पिलर से टकराया

0
200

त्यौहार का वक़्त है दिवाली के बाद फ़ौरन Chhath पर्व मनाया जाना है जिसके लिए पहले से तैयारी की जाती है। बिहार के CM Nitish Kumar उस समय बाल-बाल बच गए जब CM Nitish Kumar अपने सहयोगी मंत्री और अन्य पदाधिकारियों के साथ छठ घाट का निरीक्षण कर रहे थे। मिली खबर के मुताबिक CM की बोट जेपी सेतु के एक पिलर से टकरा गई।

मिली जानकारी के मुताबिक स्टीमर पर सवार सभी लोग सुरक्षित हैं। जानकारी के अनुसार पिलर से टकराने से स्टीमर को भी क्षति पहुंची। स्टीमर में सवार सभी लोग अचानक हिल गये। CM Nitish Kumar और उनके साथ मौजूद सभी पदाधिकारी दूसरे स्टीमर से बाहर निकले। उनके साथ एक स्टीमर भी चल रही थी। बाहर निकले सड़क मार्ग से CM Nitish आवास लौटे।

दरअसल, Chhath त्यौहार के पहले गंगा नदी में बाढ़ आ जाने की वजह से घाटों पर छठ पूजा करना मुश्किल है। ऐसे में प्रशासन छठ पूजा के लिए विकल्प की तलाश कर रहा है। इसी के मद्देनजर CM Nitish Kumar छठ घाटों का निरीक्षण करने के लिए निकले थे। बता दें कि मुख्यमंत्री स्टीमर पर सवार होकर गंगा नदी में घाटों का निरीक्षण करने निकले थे। हादसा इसी दौरान का बताया जा रहा है।

इस मामले में CM कार्यालय की ओर से प्रेस रिलीज जारी कर बताया गया है की CM Nitish Kumar लोक आस्था के महापर्व छठ के मद्देनजर घाटों का निरीक्षण किया। दानापुर के नासरीगंज से पटना सिटी के गायघाट तक स्ट्रीमर पर सवार होकर छठ घाटों का मुआयना किया गया। इस दौरान सीएम ने सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में पदाधिकारियों को कई निर्देश दिए और कहा कि हर हाल में छठ व्रतियों की सुरक्षा और सुविधा सुनिश्चित किया जाए। उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए।

सुरक्षा व ट्रैफिक के लिए आवश्यक बैरिकेडिंग भी कराएं तथा घाटों तक के पहुंच पथ को दुरुस्त किया जाए। CM ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया की गंगा नदी के जलस्तर और प्रवाह को देखते हुए छठ घाटों पर पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम करें।

यह भी पढ़ें – Moradabad जानें से पहले ध्यान दें, 2 दिन नहीं घुस सकेंगे भारी वाहन, प्राइवेट बसों का प्रवेश घंटों रहेगा बंद

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है