Chaitra Navratri 2022: कल से भक्त रखेंगे पहला व्रत, जानें कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

0
451

मां दुर्गा एक बार फिर से भक्तों की मनोकामना पूरी करने के लिए तैयार हैं। भक्त भी मां दुर्गा को ख़ुश करने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। हर साल 4 Navratri मनाए जाते हैं। लेकिन शारदीय व Chaitra Navratri का विशेष महत्व होता है। इस साल Chaitra Navratri 2 अप्रैल 2022, शनिवार से प्रारंभ हो रहे हैं, जो कि 11 अप्रैल 2022, सोमवार को समाप्त होंगे।

Chaitra Navratri के पहले दिन घटस्थापना करके मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की अलग-अलग पूजा-अर्चना की जाती है। मान्यता है कि Navratri में मां दुर्गा की विधिवित पूजा करने वाले भक्तों पर माता रानी अपनी कृपा दृष्टि सालभर रखती हैं।

जानें, कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

कलश स्थापना चैत्र Navratri की प्रतिपदा तिथि यानी पहले दिन की जाएगी। कलश स्थापना का शुभ समय 2 अप्रैल को सुबह 06 बजकर 10 मिनट से 08 बजकर 29 मिनट तक है। कुल अवधि 02 घंटे 18 मिनट की है।

इस तरह करें घटस्थापना

  • Navratri के पहले दिन सुबह जल्दी उठकर नहाएं।
  • स्वच्छ वस्त्र धारण करने के बाद कलश को पूजा घर में रखें।
  • मिट्टी के घड़े के गले में पवित्र धागा बांधे
  • अब कलश को मिट्टी और अनाज के बीज की एक परत से भरें।
  • कलश में पवित्र जल भरकर उसमें सुपारी, गंध, अक्षत, दूर्वा घास और सिक्के डालें।
  • कलश के मुख पर एक नारियल रखें।
  • कलश को आम के पत्तों से सजाएं।
  • मंत्रों का जाप करें।
  • कलश को फूल, फल, धूप और दीया अर्पित करें।
  • देवी महात्म्यम का पाठ करें।

यह भी पढ़ें – Delhi सरकार ने 59 % Electric वाहन मालिकों को दी सब्सिडी

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है