नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने JEE Main की अप्रैल में आयोजित होने वाली परीक्षा के लिए सख्त सुरक्षा की व्यवस्था करने जा रही है। यह JEE Main की तृतीय सत्र की परीक्षा होगी। एनटीए ने अभी से तैयारी में जुट गई है। JEE Main की इसी माह आयोजित परीक्षा का प्रश्न पत्र वायरल होने के बाद एनटीए ने सख्त रुख अपनाया है। एनटीए देशभर के केंद्रों की जांच करने का आदेश पहले ही जारी कर चुका है।

नए सुरक्षा मानक की तैयारी

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी इसके अलावा नए सुरक्षा मानक भी तैयार करने में जुट गया है। नए सुरक्षा मानकों पर सही नहीं उतरने वाले सेंटरों पर एनटीए कोई भी परीक्षा आयोजित नहीं कराएगा। इससे पहले ही एनटीए के निदेशक विनीत जोशी ने कहा था कि संदिग्ध सेंटरों पर JEE Main की अप्रैल की परीक्षा नहीं आयोजित की जाएगी। इसके साथ ही एनटीए एग्जाम सेंटर के लिए भी विशेष गाइडलाइन जारी करेगा।

कर्मियों व अधिकारियों के लिए निर्देश जारी

जिस प्रकार सेंटर पर कोई भी परीक्षार्थी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट लेकर नहीं आता है, उसी तरह परीक्षा ड्यूटी में तैनात कर्मियों व अधिकारियों को भी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट एग्जाम सेंटर पर या ड्यूटी के दौरान नहीं लाना होगा। इसकी जिम्मेदारी केंद्र प्रभारी की होगी। केंद्र प्रभारी के नेतृत्व में ड्यूटी पर तैनात कर्मियों पर नजर रखी जाएगी।

सीसीटीवी खराब तो नहीं ली जाएगी परीक्षा

सभी सेंटर पर गहनता से जांच के उपरांत ही बच्चों को परीक्षा केंद्र के अंदर प्रवेश दिया जाएगा। सभी छात्र सामान्य परिधान में होंगे। इसके साथ ही सभी परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी की व्यवस्था होगी। सीसीटीवी खराब रहने वाले केंद्रों पर परीक्षा नहीं ली जाएगी। बता दें कि JEE Main की इसी माह आयोजित परीक्षा का प्रश्न पत्र वायरल होने के बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने सख्त रुख अपनाया है। बता दें कि JEE Main की तृतीय सत्र की परीक्षा होगी।

यह भी पढ़ें: IPhone को भरना पड़ा 14 करोड़ का जुर्माना, जाने क्यों

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है