आपसी झगड़ा बना विनाश का कारण, उजाड़ दिया परिवार

0
829
mujaffarnagar businessman murder case

रिपोर्ट: संतोष तिवारी

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर में साहिबगंज थाना क्षेत्र के पाक्री-असली गांव में पुरानी अदावत में एक व्यवसाई की पीट-पीटकर हत्या का मामला सामने आया है। आरोपियों ने घात लगाकर लाठी-डंडे  पत्थरों से उन पर हमला कर दिया। दरअसल घटना के वक्त व्यवसायी बाइक से मोरहर पेट्रोल पंप से डीजल लेकर घर लौट रहे थे। मृतक व्यवसाई मंटू तिवारी बंगला निजामत गांव के रहने वाले थे ।

बंगला निजामत के आसपास के ग्रामीण घटना की सूचना मिलते ही मौके पर जुट गए और शव के साथ स्टेट हाइवे74 के नीम चौक पर प्रदर्शन कर इसे जाम कर दिया। कुछ लोगों ने तो आक्रोशित होकर पाक्री-असली गांव में आरोपितों के घर पर तोड़फोड़ कर बथान को फूंक दिया। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस को पर भी ग्रामीण भारी पड़ गए और उनको खदेड़ने लग गए।

जिसके बाद एसडीपीओ सरैया समेत कई थानों की पुलिस ने पहुंचकर हत्या के आरोपियों समेत कई लोगों को आपनी गिरफ्त में लेकर पूछताछ में जुटी है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ व्यवसाई के शव को पुलिस अपने कब्जे में नहीं ले सकी है। बतादें मृतक को तीन बेटियां और एक बेटा है।

साहिबगंज पुलिस रिकॉर्ड की मानें तो दोनों पक्ष दागदार छवि के हैं। दोनों के खिलाफ साहिबगंज समेत कई थानों में आपराधिक केस दर्ज है। पुलिस आरोपित पक्ष की आपराधिक कुंडली खंगाल रही है। वहीं मृतक मंटू तिवारी के खिलाफ ठगी हत्या और आर्म्स एक्ट का केस भी विभिन्न थानों में दर्ज है।

एक माह पहले भी व्यवसाई व आरोपितों के बीच हो चुकी है झड़प

मंटू तिवारी मिट्टी भरने का काम करते थे और दूसरों से खेत खरीद कर उस मिट्टी का इस्तेमाल करते थे। 1 माह पहले उनके खरीदे गए खेत से आरोपितों ने मिट्टी काटकर बेच दी। इसे लेकर दोनों पक्षों में हिंसक झड़प हुई थी। यहाँ तक कि एक-दूसरे को देख लेने की धमकी तक भी दी गई थी। इसके साथ ही थाने में दोनों पक्ष ने एक दूसरे के खिलाफ एफ.आई.आर दर्ज भी कराई थी।