दिल्ली के करीब 25 हजार चिकन कारोबारियों पर आई मुसीबत

कोरोना ने लोगों को कम मुसीबत में डाला था जो अब बर्ड फ्लू और आ गया। कुछ ऐसा ही देश का कारोबारी सोच रहा होगा। बर्ड फ्लू ने राजधानी के करीब 25 हजार चिकन कारोबारियों को मुश्किल में डाल दिया है। बर्ड फ्लू के कारण लोगों की सतर्कता से चिकन और अंडे का कारोबार घटकर आधा रह गया है। कहना गलत नहीं होगा कि कोरोना महामारी से चिकन कारोबार उबर भी नहीं पाया था कि बर्ड फ्लू ने और मुसीबत बड़ा दी है। बता दें कि लखनऊ के चौक, नक्खास, टूड़ियागंज, आलमबाग सहित अन्य मुर्गा मंडियों में रोजाना 10 हजार टन माल आता है, पर बर्ड फ्लू के डर के कारण चिकन दुकानों पर पहुंचने वाले ग्राहकों की संख्या काफी कम हो गई।

6 जनवरी को मुश्किल से करीब छह हजार टन का माल बिक सका। आलम यह है कि पहले जो सप्लायर प्रतिदिन 15 से 20 कुंतल चिकन सप्लाई करते थे। वह अब 2 दिनों से 8 से 10 कुंतल माल ही बेच पा रहे हैं। मुर्गा कारोबारियों के मुताबिक होटल, रेस्त्रां से भी आर्डर कम आने लगे हैं।

सर्दी के मौसम में मीट खासकर चिकन और अंडे की बिक्री बढ़ जाती है, लेकिन हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, केरल, राजस्थान सहित अन्य राज्यों में बर्ड फ्लू की आशंका क्या गहराई, चिकन दुकानों से ग्राहक दूरी बनाने लगे हैं। नक्खास, बिल्लौचपुरा, डालीगंज, चौक, आलमबाग सहित अन्य स्थानों पर जहां थोक में चिकन की दुकानें हैं, वहां बुधवार को ग्राहक इक्का-दुक्का ही पहुंचे।

बर्ड फ्लू के चलते राजव्यापी अलर्ट, कॉर्बेट प्रशासन का अलर्ट

लखनऊ मंडल में करीब 45 पोल्ट्री फार्म है। ये सर्वाधिक मलिहाबाद, फैजाबाद रोड, देवा रोड, बाराबंकी क्षेत्र में हैं। यहां रोजाना करीब 4।75 लाख अंडों का उत्पादन होता है। कारोबारियों के मुताबिक लखनऊ में रोजाना 2.50 लाख अंडों की खपत होती है, जो पिछले 24 घंटे में घटकर 1.35 लाख हो गई है।

पिछले दो दिनों से लोग चिकन खरीदने से परहेज कर रहे हैं। इससे मुर्गा पालकों को भी नुकसान होगा। यानी बाजारों में भी मुर्गों के दाम बिल्कुल गिर जाएंगे। एक जनवरी तक थोक बाजार में जिंदा मुर्गे की कीमत 102-106 रुपये प्रतिकिलो थी, लेकिन अब 78-80 रुपये प्रतिकिलो हो गया है। बीमारी लंबी खिंची तो ये दाम 50 रुपये प्रतिकिलो तक गिर जाएंगे। वहीं फुटकर बाजार में 180 रुपये प्रति किलो से घटकर 140 रुपये प्रतिकिलो हो गया है। व्यापारियों के मुताबिक बीमारी नहीं रुकी तो दाम 100 रुपए प्रति किलो तक गिर जाएंगे। एक अनुमान के मुताबिक जिंदा मुर्गा 30 से 40 रुपए और मांस 100 रुपए प्रति Kilo से नीचे आ सकते हैं।

AB STAR NEWS  के  ऐप को डाउनलोड  कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम  और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते हैं