BJP ने CM Yogi को Ayodhya-Mathura की बजाए दिखा दिया गोरखपुर का रास्ता 

0
512

चुनाव का वक़्त है साहब, कब क्या हो जाए ये कोई नहीं बता सकता। कभी अयोध्‍या तो कभी मथुरा,आख़िरकार CM Yogi Adityanath के लड़ने के लिए BJP ने गोरखपुर सीट फाइनल कर दी है। ऐसा क्यों सोचा गया इस बात का जवाब ख़ुद BJP ही बेहतर बता सकती है।

दो दिन पहले जब Yogi Adityanath के अयोध्‍या से लड़ने की सम्‍भावना खबरों की शक्‍ल लेने लगी थी तो गोरखपुर में भी सियासी चर्चाएं तेज हो गई थीं। BJP और हिन्‍दूवादी संगठनों से जुड़े लोग सवाल उठा रहे थे कि आखिर CM Yogi गोरखपुर से क्‍यों नहीं लड़ रहे? गोरखपुर के मेयर सीताराम जायसवाल ने तो BJP नेतृत्‍व से CM Yogi को गोरखपुर की नौ में से किसी सीट से चुनाव लड़ा देने की मांग तक कर दी थी। पार्टी के स्‍थानीय रणनीतिकारों का साफ कहना था कि CM Yogi गोरखपुर से लड़ेंगे तो इसका फायदा पूर्वांचल की तमाम सीटों के साथ पूरे प्रदेश में BJP को मिलेगा। गोरखपुर में प्रचार-प्रसार का CM Yogi का अपना तंत्र है। यहां BJP के अलावा हिन्‍दू युवा वाहिनी का मजबूत संगठन है।

पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं से मिले ऐसे फीडबैक के बाद शनिवार को BJP ने 105 उम्‍मीदवारों की पहली लिस्‍ट में CM Yogi के गोरखपुर शहर की सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया। इस सीट पर पिछले 33 वर्षों से भगवा का क़ब्ज़ा है। बता दें कि CM Yogi Adityanath गोरखपुर सदर सीट से ही 1998 से 2017 तक सांसद रहे हैं। वह सबसे पहले 1998 में यहां से BJP प्रत्याशी के तौर पर लोकसभा चुनाव लड़े थे। 2017 में उत्‍तर प्रदेश के CM बनने के बाद उन्‍होंने गोरखपुर सदर संसदीय सीट छोड़ी। वह विधानपरिषद के लिए चुने गए। 2022 में वह पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे।

यह भी पढ़ें – सरकार बनाएं पिछड़े और मलाई खाएं अगड़े, यह नहीं चलेगा : Swami Prasad Maurya

ABSTARNEWS के ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो कर सकते है